Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


कोरोना वायरस : सरकारकी अपीलको नजरअंदाज कर रहे हैं इटलीके बुजुर्ग

रोम(एजेंसी)। कोरोना वायरस से बचने के लिए घरों में रहने की सरकार की सलाह को इटली में बुजुर्ग नजरअंदाज कर रहे हैं। यूरोप में कोरोना वायरस इटली से फैला है और अब तक इससे इटली में 148 लोगों की मौत हो चुकी है। जापान के बाद बुजुर्गों की सबसे ज्यादा संख्या इटली में है। वायरस सबसे तेजी से बुजुर्गों को अपनी चपेट में लेता है। ऐसे में बुजुर्गों को घरों में ही रहने की अपील की गई थी। बुधवार से देशभर के स्कूलों को दो हफ्ते तक बंद करने की घोषणा के बाद करीब 84 लाख छात्रों को घरों में ही रहना पड़ रहा है। यहां के खेल के मैदानों में देखने को मिल रहा है कि बुजुर्ग अपने नाती-पोतों के साथ वक्त बिता रहे हैं। और एक प्रकार से यह उन्हें घरों में रहने की दी गई सलाह के ठीक विपरीत है। एक बुजुर्ग लोरेंजो रोमानो ने कहा कि अपनी सेहत की परवाह किए बिना उन्हें अपने नाती-पोतों की देखभाल करके खुशी महसूस हो रही है क्योंकि वह अधिक से अधिक समय बच्चों के साथ बिताना चाहते हैं।
गाजामें शरणार्थियोंके शिविरमें आग लगनेसे 11 की मौत

गाजा(एजेंसी)। गाजा पट्टी में शरणार्थियों के शिविर में स्थित बेकरी में आग लगने के कारण 11 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई और 53 लोग घायल हो गए। स्थानीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी। मंत्रालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि मरने वालों में चार महिलाएं भी शामिल हैं जबकि 14 लोग गंभीर रुप से घायल हुए हैं। हमास द्वारा संचलित सिविल डिफेंस के अनुसार शरणार्थियों के शिविर में स्थित बेकरी में गैस बलून फटने के कारण आग लगी थी। आग लगने के कारण आसपास के कई घरों को भी नुकसान पहुंचा है जबकि 20 से ज्यादा दुकानें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि दमकलकर्मियों को आग बुझाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस इस हादसे की जांच कर रही है।
ब्राजीलने वेनेजुएलासे सभी राजनयिकोंको वापस बुलाया

ब्रासीलिया(एजेंसी)। ब्राजील ने वेनेजुएला से अपने सभी राजनयिकों और अधिकारियों को वापस बुला लिया है। साथ ही वेनेजुएला की निकोलस मादुरो सरकार से ब्राजील से अपने सभी अधिकारियों को वापस बुलाने को कहा है। दोनों देशों के बीच इस तरह की कार्रवाई को उनके बीच बढ़ते तनाव के तौर पर देखा जा रहा है। ब्राजील के धुर दंक्षिणपंथी राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो कट्टर वामपंथी मादुरो की सरकार को 'तानाशाहÓ करार दे चुके हैं और बदले में मादुरो बोलसोनारो को 'फासीवादीÓ कह चुके हैं। एक आधिकारिक बयान में बृहस्पतिवार को कहा गया था कि चार राजनयिकों और 10 अधिकारियों को ब्राजील के दूतावास से और वेनेजुएला के वाणिज्य दूतावास से वापस बुलाया गया है। इसके बाद सूत्रों ने कहा, 'वेनेजुएला में कोई नहीं रहेगा। ब्राजील उन 50 से अधिक देशों में शामिल है जिन्होंने वेनेजुएला के विपक्षी नेता जुआन गुएदो के कार्यवाहक राष्ट्रपति के दावे को मान्यता दी है।
कोरोना वायरस : अमेरिकाने 8.3 अरब डॉलरकी मददका विधेयक पारित किया

फ्रांसिस्को अमेरिका के उत्तर पश्चिमी हिस्से में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढऩे और मौत का आंकड़ा 12 पहुंचने के बाद अमेरिकी संसद ने इस विषाणु से लडऩे के लिए 8.3 अरब डॉलर का आपातकालीन 'व्यय विधेयकÓ पारित किया है। प्रतिनिधि सभा से इस विधेयक के पारित हो जाने के एक दिन बाद सीनेट में दोनों दलों ने इसे पूरी तरह समर्थन दिया है। ऐसे में अब यह विधेयक तुरंत राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हस्ताक्षर के लिए व्हाइट हाउस भेजा जा सकता है। डेमोक्रेट सीनेटर पेट्रिक लीह ने कहा, अमेरिकी नागरिक अपने नेतृत्व की ओर ताक रहे हैं। वह इस बात का आश्वसन चाहते हैं कि सरकार उनके स्वास्थ्य और सुरक्षा का जिम्मे के लिए तैयार रहे। यह राशि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा प्रारंभ में अनुरोध की गई 2.5 अरब डॉलर की राशि से काफी ज्यादा है। हालांकि, ट्रंप ने बाद में कहा था कि वह इससे अधिक राशि स्वीकार करने को तैयार हैं। अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण का सबसे पहला मामला जनवरी में सामने आया था जबकि 29 फरवरी को देश में इससे पहली मौत हुई थी। अब इस विषाणु से मौत का आंकड़ा बढकर 12 तक पहुंच चुका है और यह कम से कम 15 प्रांतों में फैल चुका है। करीब 180 से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं। इस बीच, सिएटल की अमेजॉन, फेसबुक और गूगल जैसी तकनीकी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को सुदूर क्षेत्र से ही काम करने को कहा है। अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि 'कुछ दिनोंÓ के भीतर देश भर में करीब 12 लाख टेस्ट किट वितरित की जाएंगी जबकि अगले हफ्ते के अंत तक 40 लाख और किट वितरित की जाएंगी।