Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


ऑस्ट्रेलियाई जंगलोंमें भीषण आगसे बारिशने दिलाई राहत

सिडनी(एजेंसी)। जंगलों में लगी भीषण आग की तपिश झेल रहे पूर्वी ऑस्ट्रेलिया को बृहस्पतिवार को बारिश से राहत मिली तथा अभी और बारिश होने की उम्मीद है। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी भीषण आग में 28 लोगों की जान चली गई है और तकरीबन एक अरब जानवर मारे गए हैं। गर्म मौसम और प्रभावित इलाकों में बहुत मामूली बारिश होने के कारण आग का यह संकट और गहराया गया है। अधिकारी इस सप्ताह बारिश की उम्मीद कर रहे थे। स्थानीय मौसम विज्ञान ब्यूरो ने बताया कि न्यू साउथ वेल्स राज्य में बृहस्पतिवार तड़के 'अच्छी बारिश' हुई। यह राज्य आग से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में से एक है। राज्य की ग्रामीण दमकल सेवा ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में बताया, न्यू साउथ वेल्स में कई दमकलकर्मियों के लिए राहत है। उसने एक वीडियो भी साझा की जिसमें जल रहे एक जंगल में बारिश पड़ती दिखाई दे रही है। उसने कहा, हालांकि इस बारिश से सारी आग नहीं बुझेगी लेकिन यह आग पर काबू पाने में काफी मददगार साबित होगी। दक्षिणी शहर मेलबर्न में बुधवार देर रात को गरज के साथ बारिश पडऩे से आग का धुआं छंटने में मदद मिली। धुएं से शहर की आबोहवा दमघोंटू हो गई थी। विक्टोरियन एनवायरमेंट प्रोटेक्शन एजेंसी ने कहा, बारिश से राज्य के ज्यादातर हिस्सों में वायु गुणवत्ता में सुधार आया है। एजेंसी ने बताया कि सप्ताहांत तक और बारिश का अनुमान है। अगर ऐसा होता है कि तो गत वर्ष सितंबर में आग लगने के बाद से यह बारिश की सबसे लंबी अवधि होगी। इस आग के कारण 2,000 से अधिक मकान क्षतिग्रस्त हो गए और एक करोड़ हेक्टेयर भूमि जलकर खाक हो गई। ऑस्ट्रेलिया में हर साल आग लगती है लेकिन पिछले साल यह काफी पहले शुरू हो गई और लंबे समय तक लगी रही। साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया को सबसे सूखा और गर्म देश दर्ज किया गया। 
इटलीकी राजधानीमें डीजल कारों पर लगा बैन

रोम(एजेंसी)। वायु प्रदूषण दुनिया भर में चिंता का सबब बन गया है। इसी समस्या से इटली भी परेशान है। इटली ने राजधानी रोम में डीजल कारों पर पाबंदी लगा दी है। रोम में लगातार धूप के साथ बारिश न होने और हवा धीमी होने के कारण पिछले दस दिनों से प्रदूषण खतरनाक स्तर पर है। डीजल कारों के अलावा ऐसे अन्य छोटे-बड़े वाहन सुबह से लेकर देर रात तक शहर में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। रोम सिटी काउंसिल के इस फैसले से शहर में सीधे तौर पर दस लाख वाहन कम हो जाएंगे, लेकिन पर्यावरण संगठनों ने इसे देर से उठाया कदम बताया है। रोम में सुबह 7.30 से रात 8.30 बजे तक यह पाबंदी लागू रहेगी। मिलान, तुरिन, फ्लोरेंस, पियासेंजा, पार्मा, रेगियो, एमिला, मोडेना में भी प्रदूषण को लेकर स्थानीय प्रशासन ने वाहनों पर तमाम अंकुश लगाए हैं। वहीं तेल कंपनियों का कहना है कि रोम प्रशासन ने वैज्ञानिक आधार पर फैसला नहीं लिया है। कर्मचारी संगठनों का कहना है कि इससे सात लाख कार ड्राइवरों की रोजी-रोटी पर भी संकट आ गया है।
-----------------------
यूक्रेन विमान दुर्घटना जांचमें कनाडाने औपचारिक रूपसे शामिल करनेकी मांग की

ओटावा(एजेंसी)। कनाडा के परिवहन मंत्री ने बुधवार को कहा कि उनका देश यूक्रेन की अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन के एक विमान के तेहरान में पिछले सप्ताह दुर्घटनाग्रस्त होने के मामले की जांच में औपचारिक रूप से शामिल होना चाहता है। बता दें कि तेहरान कई दिनों तक पश्चिमी देशों के इन दावों को खारिज करता रहा कि बोइंग 737 को उसने मिसाइल से मार गिराया गया था। पिछले शनिवार को दुर्घटनावश मार गिराने की बात उसने स्वीकार की थी। विमान दुर्घटना जांच में शामिल होना चाहता है कनाडा विमान में सवार सभी 176 यात्रियों तथा चालक दल के सदस्यों की मौत हो गई थी। इनमें से 138 लोग कनाडा जा रहे थे और 57 कनाडाई थे। कनाडा के परिवहन मंत्री मार्क गार्नो ने कहा कि एक अंतरराष्ट्रीय दल के सदस्य के तौर पर दो कनाडाई जांचकर्ता ईरान में मौजूद हैं और उनके साथ सहयोग भी किया जा रहा है। कनाडा जांच में औपचारिक रूप से शामिल होना चाहता है। उन्होंने कहा कि विमान के ब्लैक बॉक्स ईरान के पास हैं और अन्य दो जांचकर्ता जहां भी रिकॉर्डर की जांच की जाए, वहां कभी भी जाने को तैयार हैं। कनाडा गुरुवार को लंदन में एक बैठक भी आयोजित कर रहा है, जिसमें उन देशों के प्रतिनिधि शामिल होंगे जिनके नागरिक इस दुर्घटना में मारे गए हैं। इस बैठक में यह तय किया जाएगा कि ईरान के साथ किस तरह का रुख अपनाना है। इस बीच, कनाडा में कई विश्वविद्यालयों में बुधवार को मौन रखकर पीडि़तों को याद किया गया।