Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


कांग्रेस महिलाओंका सम्मान भूल गई

नयी दिल्ली(एजेंसी)। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को राहुल गांधी के 'भयानकÓ बयान की निन्दा की और कहा कि यह शर्म की बात है कि कांग्रेस नेता महिलाओं की गरिमा को भूलकर बोल रहे हैं। अर्थव्यवस्था में मजबूती लाने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों पर चर्चा करने के लिए बुलाए गए संवाददाता सम्मेलन में सीतारमण से एक पत्रकार ने झारखंड में राहुल गांधी द्वारा एक जनसभा के दौरान की गई इस टिप्पणी के बारे में पूछा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मेक इन इंडियाÓ का वायदा किया था, लेकिन 'जहां भी आप देखते हैं, अब आप 'रेप इन इंडियाÓ पाते हैं।Ó सीतारमण ने कहा कि गांधी ने 'भयानकÓ बयान दिया है। उन्होंने कहा, यह शर्म की बात है कि कांग्रेस का एक नेता महिलाओं की गरिमा को भूलकर बोलता है। इससे पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सहित भाजपा महिला सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को चुनाव आयोग पहुंचा और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ बलात्कार को लेकर उनकी टिप्पणी के लिए 'कठोरतम कार्रवाई' की मांग की। ईरानी ने गांधी पर आरोप लगाया कि वह झारखंड में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बलात्कार का इस्तेमाल एक 'राजनीतिक अस्त्रÓ के तौर पर कर रहे हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत भारतीय जनता पार्टी के सदस्यों ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के मेक इन इंडिया की जगह 'रेप इन इंडियाÓ वाले बयान पर शुक्रवार को लोकसभा में जबरदस्त हंगामा किया जिसके कारण सदन की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही अध्यक्ष ओम बिरला ने संसद हमले में शहीद पुलिसकर्मियों और कर्मचारियों को श्रद्धांजलि दी। शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद भाजपा के सदस्य अपनी सीटों से खड़े होकर गांधी के रेप इन इंडिया वाले बयान पर हंगामा शुरू कर दिया। भाजपा के सदस्यों ने गांधी से सदन में आकर माफी मांगने की मांग करने लगे। महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब किसी बड़े राजनीतिक दल के नेता ने देश की नारियों के लिए इस तरह के शर्मनाक बयान दिये हैं। उन्होंने गांधी के बयान की निंदा करते हुए कहा कि वह रेप को राजनीतिक हथियार के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। क्या वह चाहते हैं कि महिलाओं के साथ रेप हो? इस दौरान भाजपा की तमाम महिला सदस्य अपनी सीट के निकट खड़ी हो गईं और 'राहुल गांधी माफी मांगो' के नारे लगाने लगीं।