Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


कैम्ब्रिज एनालिटिका की सेवाएं लेने पर जवाब दे कांग्रेस

कैम्ब्रिज एनालिटिका की सेवाएं लेने पर जवाब दे कांग्रेस, देश माफ नहीं करेगाः भाजपा
ब्रिटिश कंपनी ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ द्वारा डाटा के दुरुपयोग को लेकर उठे विवाद के बीच भाजपा ने कांग्रेस एवं उसके अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए आज सवाल किया कि चुनाव को प्रभावित करने का दावा करने वाली इस संदिग्ध विदेशी कंपनी की सेवाएं लेने के विषय पर विपक्षी पार्टी चुप क्यों है ? भाजपा के वरिष्ठ नेता तथा सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैम्ब्रिज एनालिटिका से कथित संबंधों को लेकर कांग्रेस की तीखी आलोचना करते हुए कहा, ''इतने गंभीर मामले और आरोपों पर कांग्रेस पार्टी की ओर से कोई प्रतिवाद क्यों नहीं है। देश इस विषय पर उसे क्षमा नहीं कर सकता है।’’
उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि इस संदिग्ध सोशल मीडिया कंपनी की सेवाएं लेने का विषय है और कंपनी इतना बड़ा दावा करती है कि उसने चुनाव को प्रभावित किया है। कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए प्रसाद ने कहा कि हमारा स्पष्ट आरोप है कि कांग्रेस पार्टी की ओर से संदिग्ध परिस्थितियों में इस कंपनी की सेवाएं ली गईं। भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राहुल गांधी देश को जवाब दें। उन्होंने कहा कि गुजरात चुनाव में जिस तरह से सोशल मीडिया का अभियान चलाया गया, यह स्पष्ट होता है कि यह चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास था।
 
यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि इस कंपनी की सेवाएं भाजपा ने भी लीं, रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हमने कार्यालय में पता किया है और इस तरह की कोई सेवाएं नहीं ली गईं। उन्होंने कहा कि यह कंपनी साल 2013 में बनी तो उससे पहले इसकी सेवाएं कैसे ली जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि कई कंपनियां आगे आकर खुद कुछ दावा करती हैं लेकिन इससे कांग्रेस पर ऐसी संदिग्ध कंपनी की सेवाएं लेने के आरोप कमतर नहीं होते जो चुनाव को प्रभावित करने के मकसद से हों।
 
उल्लेखनीय है कि ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ द्वारा फेसबुक डाटा का दुरूपयोग करने के मामले में भाजपा और विपक्षी कांग्रेस पार्टी आमने-सामने है। बुधवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने इस विषय पर कांग्रेस पार्टी से तीन सवाल पूछे थे। केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि ‘क्या कांग्रेस मतदाताओं को रिझाने के लिए डाटा चोरी और आंकड़ों में हेरफेर पर निर्भर है? क्या कांग्रेस कैम्ब्रिज एनालिटिका द्वारा अपनाए गए तौर-तरीकों का समर्थन करती है? राहुल गांधी के सोशल मीडिया प्रोफाइल में कैम्ब्रिज एनालिटिका की क्या भूमिका है?’
 
प्रसाद ने बुधवार को फेसबुक को चेताया था कि सोशल मीडिया के दुरुपयोग को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। खबरों के अनुसार, ब्रिटिश कंपनी ने चुनाव से पहले सोशल मीडिया के लिए रणनीति तैयार करने को लेकर कांग्रेस से संपर्क साधा था। रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि वर्ष 2019 में होने वाले आम चुनाव से पहले प्रचार अभियान के लिए कांग्रेस ने कैम्ब्रिज एनालिटिका कंपनी से संपर्क किया था। ब्रिटिश कंपनी पर सोशल साइट फेसबुक से लिए गए डाटा का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया है।
जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा मुठभेड़ में 5 सुरक्षाकर्मी शहीद, ढेर हुए 5 आतंकी
श्रीनगर। उत्तरी कश्मीर में कुपवाड़ा के घने जंगलों में करीब 48 घंटे से जारी मुठभेड़ खत्म हो गई और इसमें सेना के तीन जवान तथा दो पुलिसकर्मियों सहित पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गये जबकि पांच आतंकवादी मारे गये। घटना की जानकारी देते हुए एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि एक पुलिस दल द्वारा आतंकवादियों के एक समूह को रोके जाने के बाद नियंत्रण रेखा से करीब आठ किलोमीटर दूर हलमतपुरा क्षेत्र में मुठभेड़ हुई।

कुपवाड़ा पुलिस और सेना, प्रांतीय सेना और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने अभियान चलाया। मुठभेड़ ने नियंत्रण रेखा पर सेना की निगरानी में कमी को रेखांकित किया क्योंकि आतंकवादियों का समूह शामसाबरी पर्वतीय श्रंखला के दो रिज को पार करके करीब आठ किलोमीटर तक अंदर घुस आया। अधिकारियों ने कहा कि नियंत्रण रेखा पार करने के बाद आतंकवादी घाटी में मौजूद अपने साथियों से मिले और उन्हें कुपवाड़ा की तरफ जाते वक्त पुलिसकर्मियों ने देख लिया।
एक मस्जिद में छिपे आतंकवादियों ने जंगल की तरफ भागना शुरू कर दिया लेकिन सुरक्षा बलों ने कल उनमें से चार को मार गिराया। अधिकारियों ने कहा कि ऊंचाई पर जाकर छिपा एवं सुरक्षाबलों पर गोली चलाने वाला पांचवां आतंकवादी आज शाम मारा गया। पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि मुठभेड़ में पांच आतंकवादी मारे गये और माना जा रहा है कि सभी विदेशी आतंकवादी हैं और वे नियंत्रण रेखा में हाल में घुसपैठ करने वाले समूह में शामिल थे।
 
प्रवक्ता ने कहा कि दो पुलिसकर्मी दीपक थुसू और एसपीओ मोहम्मद यूसुफ तथा सेनाकर्मी सिपाही अशरफ राठर तथा नायक रंजीत खोलका शहीद हो गये। उन्होंने कहा कि इससे पहले गोलीबारी में एसपीओ जावेद अहमद घायल हो गये। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उनकी स्थिति स्थिर बताई जा रही है। जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मुठभेड़ में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है।

जम्मू-कश्मीर के इन क्षेत्रों में जाने से बचें, हिमस्खलन का अलर्ट जारी

जम्मू। जम्मू- कश्मीर के अधिकारियों ने राज्य में ऊंचाई पर स्थित विभिन्न स्थानों पर हिमस्खलन चेतावनी जारी करते हुए लोगों से एहतियात बरतने को कहा है। आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि, ‘हिम एवं हिमस्खलन अध्ययन प्रतिष्ठान( एसएएसई) से प्राप्त सूचना के अनुसार, ऊंचाई वाले विभिन्नस्थानों पर कम खतरे वाले हिमस्खलन की चेतावनी जारी की गयी है।’

उन्होंने कहा कि चेतावनी अगले24 घंटों के लिए बारामुला, गुलमर्ग, फुरकियान- जेड गली, कुपवाड़ा, चौकीबल- तंगधार, कुलगाम, बडगाम, बांदीपोरा, गंदेरबल, कश्मीर के गुरेज के अलावा श्रीनगर- जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग के लिए जारी की गयी है। प्रवक्ता ने कहा, चेतावनी लद्दाख क्षेत्र के करगिल और लेह, जम्मू क्षेत्र के पुंछ, राजौरी, रिआसी, रामबन, डोडा, किश्तवाड़ा और उधमपुर के लिए भी जारी की गयी है। उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों के लोगों से एहतियात बरतने को कहा गया है।
---------------