Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


निर्भयाकी मांने कहा-मिल रही है सिर्फ तारीख पर तारीख

नयी दिल्ली (एजेंसी)। निर्भया गैंगरेप दुष्कर्म मामले में फांसी की तारीख आने के बाद भी दोषियों की लेटलतीफी और नियम-कानून के चलते दोषियों की फांसी में देरी होती दिख रही है, उससे निर्भिया की मां बेहद परेशान हैं। निर्भया की मां आशा देवी ने नए डेथ वारंट पर गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि जो मुजरिम चाहते थे वही हो रहा है। तारीख पे तारीख, तारीख पे तारीख। उन्होंने कहा कि हमारा सिस्टम ऐसा है कि जहां अपराधियों की सुनी जाती है। वहीं, निर्भया मामले के दोषियों को फांसी देने में दिल्ली सरकार की तरफ से किसी तरह की देरी से इनकार करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि पीडि़ता की मां को 'गुमराहÓ किया जा रहा है। उन्होंने भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर पर मामले   का राजनीतीकरण करने का आरोप लगाया। आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने पत्रकारों से कहा कि दिल्ली सरकार के ऊपर जो भी जिम्मेदारियां थी, उसने कुछ ही घंटों में उन्हें पूरा कर दिया। उन्होंने कहा, हमने कुछ घंटों के भीतर दया याचिका आगे भेज दी, इसलिए दोषियों को फांसी देने में विलंब में दिल्ली सरकार की कोई भूमिका नहीं है। जावड़ेकर ने आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार दोषियों को फांसी देने में देरी कर रही है, इस पर केजरीवाल ने कहा कि भाजपा नेता इस मामले पर राजनीति कर रहे हैं और यह अच्छी बात नहीं है। केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने यह भी कहा था कि अगर आप सरकार ने 2017 में मौत की सजा के खिलाफ उनकी अपीलों को उच्चतम न्यायालय द्वारा खारिज किए जाने के फौरन बाद उन्हें नोटिस भेज दिया होता तो चारों दोषियों को अभी तक फांसी हो गई होती। ऐसी खबरें है कि निर्भया की मां ने कहा है कि 2012 में जिन लोगों ने सड़कों पर प्रदर्शन किए थे वे आज केवल राजनीतिक लाभ के लिए उनकी बेटी की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। इन खबरों पर केजरीवाल ने कहा कि पीडि़ता की मां को 'गुमराहÓ किया जा रहा है। उन्होंने कहा, हमारी सरकार विलंब की कोशिश क्यों करेगी, हम जल्द से जल्द उन्हें फांसी देना चाहते हैं। मुझे लगता है कि उन्हें गुमराह किया जा रहा है। इस पूरी प्रक्रिया में दिल्ली सरकार की बमुश्किल कोई भूमिका है। आप ने भाजपा पर लोगों को 'गुमराह' करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कानून एवं व्यवस्था का मामला केंद्र के अधिकार क्षेत्र में है।
------------------
बम धमाकोंका दोषी कानपुरसे गिरफ्तार
कानुपर। देशभर में कई सिलसिलेवार बम धमाकों के मामलों में दोषी और सजायाफ्ता डॉ. जलीस अंसारी को पुलिस ने कानुपर से गिरफ्तार कर लिया है। आतंकी जलीत अंसारी पिछले महीने पैरोल पर अजमेर की जेल से बाहर आया था और फरार हो गया था। उस पर 50 से ज्यादा सीरियल बम धमाके करने का भी आरोप है। वह मुंबई से लापता हुआ है। शुक्रवार को आतंकी डॉ. जलीस अंसारी की पैरोल अवधि खत्म हो गई थी और उसको अजमेर जेल पहुंचना था, लेकिन उससे पहले गुरुवार सुबह 5 से वह लापता हो गया। वह अजमेर जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। आतंकी जलीस अंसारी को अजमेर  बम धमाका मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। 50 सीरियल बम धमाकों के आरोपी आतंकी जलीस अंसारी के गायब होने की मुंबई के अग्रीपाड़ा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई गई थी। जलीस अंसारी आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन से जुड़ा था। उसके गायब होने की जानकारी के बाद महाराष्ट्र एटीएस, मुंबई क्राइम ब्रांच समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई थीं। वहीं, जलीस अंसारी के इस तरह से लापता होने से सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ गई। महाराष्ट्र एटीएस, मुंबई क्राइम ब्रांच समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियां जलीस अंसारी की खोज पड़ताल में जुट गई। आतंकी जलीस अंसारी की तलाश में छापेमारी भी की गईं।