Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नवीनतम समाचार » दरक गयी मजबूत दीवार

दरक गयी मजबूत दीवार

श्रीलंकाने ७४ रनपर लौटायी भारतकी आधी टीम, पुजाराका एकल संघर्ष जारी
बारिशके कारण दूसरे दिन भी  केवल २१ ओवरका हो सका खेल, सुरंगा लकमलने ४८ गेंद बाद दिया रन
कोलकाता (एजेन्सियां)। भारत और श्रीलंका के बीच यहां चल रहे पहले टेस्ट मैच में बारिश विलेन साबित हो रही है। बारिश के कारण ईडन गार्डंन पर दूसरे दिन का खेल भी पूरा नहीं खेला जा सका। इन्द्र के इस खेल के कारण पहले दो दिन में केवल ३२.५ ओवर का ही संभव हो सका। मैच के पहले दिन भारतीय टीम ने ११.५ ओवर में १७ रन पर तीन विकेट गंवा दिये थे। दूसरे दिन भी केवल २१ ओवर का खेल संभव हो पाया। इस दौरान टीम इंडिया ने अजिंक्य रहाणे (चार) और रविचंद्रन अश्विन (चार) के विकेट गंवाये। दूसरे दिन का खेल समाप्त घोषित किये जाते समय टीम इंडिया का स्कोर ३२.५ ओवर में पांच विकेट पर ७४ रन था। चेतेश्वर पुजारा ४७ रन और ऋद्धिमान साहा छह रन बनाकर क्रीज पर हैं। हारिश की फिसल और श्रीलंकाई गेंदबाजों की चातुर्यपूर्ण गेंदबाजी से भारतीय बल्लेबाजी की मजबूत दीवार दरक गयी। मौसम ने अब तक जिस तरह का मिजाज दिखाया है उसके मद्देनजर मैच से कोई परिणाम निकलने की संभावना धूमिल होती जा रही है। श्रीलंका की ओर से पहले दिन तीनों विकेट तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने लिए थे जबकि दूसरे दिन गिरे दोनों विकेट दासुन सनाका के खाते में गये। टीम इंडिया ने तीन विकेट पर १७ रन से आगे खेलना शुरू किया। पारी के १४वें ओवर में चेतेश्वर पुजारा ने दासुन शनाका को दो चौके लगाकर टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया। अगले ओवर में रहाणे ने लकमल की गेंद पर चौका लगाकर खाता खोला। हालांकि इस स्ट्रोक में विश्वास की झलक नहीं थी। रहाणे ज्यादा देर नहीं टिके और केवल चार रन बनाने के बाद आउट हो गये। उनका कैच मध्यम गति के गेंदबाज दासुन शनाका की गेंद पर विकेटकीपर डिकवेला ने लपका। चार स्थापित बल्लेबाजों के आउट होने के बाद भारतीय टीम को सम्मानजनक स्थिति में पहुंचाने का सारा दबाव चेतेश्वर पुजारा पर आ गया था।  उधर रविचन्द्रन अश्विन भी उनका साथ छोड़ गये। अश्विन ने २९ गेंदों पर चार रन बनाये और दासुन शनाका की गेंद पर करुणारत्ने को कैच थमा बैठे। आधी भारतीय टीम केवल ५० रन पर पवेलियन में जा बैठी। लगने लगा कि टीम इंडिया कहीं आज ही १००रन के अन्दर न सिमट जाय तभी बारिश सहारा बन गयी और यह अनहोनी बच गयी। ऐसे में पुजारा का संघर्ण देखने लायक रहा जो १०२ गेंद पर ४७ रन बनाकर खेल रहे हैं। पुजारा की बल्लेबाजी में काउंटी क्रिकेट का अनुभव साफ दिख रहा है। इस मैच से पहले पुजारा ने रणजी में दोहरा शतक और १८४ रनों की पारी खेली थी। उधर ७.४ ओवर की गेंदबाजी के बाद सुरंगा लकमल ने अपनी गेंद पर भारतीय बल्लेबाजों को रन बनाने का मौका दिया। उनके आठवें ओवर की पांचवीं गेद पर रहाणे ने चौका लगाकर अपना खाता खोला और ४६ गेंद बाद लकमल की गेंद पर रन बनाये। लकमल ने इससे पहले जेरोम टेलर के ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ २०१५ में शुरुआती ४० गेंद डाट फेंकने के रेकार्ड को तोड़ा। २००१ के बाद लकमल का ये स्पेल सबसे बेहतरीन टेस्ट स्पेल रहा।
स्कोर बोर्ड
भारत पहली पारी- लोकेश राहुल का डिकवेला बो लकमल ०, शिखर धवन बो लकमल  ८, चेतेश्वर पुजारा खेल रहे हैं  ४७, विराट कोहली पगबाधा बो लकमल ०, अजिंक्य रहाणे का डिकवेला बो शनाका ४, रविचन्द्रन अश्विन का करुणारत्ने बो शनाका ४, ऋद्धिमान साहा खेल रहे  ६, अतिरिक्त-५, कुल-३२.५ ओवर में पांच विकेट पर ७४ रन, विकेट गिरे-१-०, २-१३, ३-१७, ४-३०, ५-५०,गेंदबाजी-सुरंगा लकमल ११-९-५-३, गमागे ११.५-३-२४-०, शनाका ८-२-२३-२, करुणारत्ने २-०-०१७-०।