Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


भारतका एशिया कपमें पहला मैच आज

दुबई (एजेन्सियां)। भारतकी मजबूत टीम मंगलवारको कमजोर मानी जाने वाली टीम हांगकांगके खिलाफ उतरेगी तो उसकी नजरें बुधवारको पाकिस्तानके खिलाफ होने वाले बहुप्रतीक्षित मुकाबलेकी तैयारीपर टिकी होंगी। भारत-पाकिस्तानकी भिड़ंतसे पहले हांगकांग मैच भारतीय फैंसके लिए ट्रेलरकी तरह होगा। नियमित कप्तान विराट कोहलीकी गैरमौजूदगीके बावजूद रोहित शर्माकी अगुआई वाली टीम वनडे क्रिकेटमें काफी मजबूत है। रोहित और उनकी टीम हांंगकांगको हल्केमें नहीं लेना चाहेगी क्योंकि उसे इसके अगले ही दिन फार्ममें चल रही पाकिस्तानकी टीमसे भिडऩा है। दुबईमें तापमान ४३ डिग्री सेल्सियसके आसपास चल रहा है और ऐसेमें भारत बड़े मुकाबलेसे पहले अपना सही संयोजन तैयार करना चाहेगा। हांगकांगको अपने पहले मैचमें पाकिस्तानके खिलाफ आठ विकेटसे हारका सामन करना पड़ा था। इस एकतरफा मैचमें टीम ११६ रन ही बना सकी थी। अगर कोई करिश्मा नहीं होता है तो रोहित, शिखर धवन, लोकेश राहुल, केदार जाधव जैसे बल्लेबाजों और जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे गेंदबाजों वाली भारतीय टीमके खिलाफ हांगकांगके प्रदर्शनमें काफी बड़े सुधारकी उम्मीद नहीं की जा रही। पिछले कुछ सालोंसे महेंद्र सिंह धोनीकी बल्लेबाजीपर लगातार सवाल उठते रहे हैं और यह टूर्नमेंट तय करेगा कि वह लयमें हैं या नहीं। भारतके लिए पांचवां, छठा और सातवां नंबरपर कौन बल्लेबाजी करेगा यह तय नहीं हो पा रहा है। धोनी अगर सातवें नंबरपर बल्लेबाजी करते हैं तो उन्हें डेथ ओवरोंमें मोहम्मद आमिरके अलावा उस्मान खान और हसन अली जैसे गेंदबाजोंका सामना करना पड़ेगा। पांचवें नंबरपर केदार जाधव या मनीष पांडेमें से एकको मौका मिल सकता है और अगर पूर्व कप्तान धोनी छठे नंबरपर बल्लेबाजीका फैसला करते हैं तो सातवें नंबरपर हार्दिक पंड्याकी बड़े शॉट खेलनेकी क्षमता भारतके लिए अहम हो सकती है। मध्यक्रम पिछले कुछ समयसे भारतके लिए चिंताका विषय रहा है और अगले साल होने वाले विश्व कपसे पूर्व भारतको इस समस्याका हल निकालना होगा। लोकेश राहुलके तीसरे नंबरपर बल्लेबाजी करनेकी उम्मीद है लेकिन आमिर या हसनकी अंदर आती गेंदें उनके लिए समस्या पैदाकर सकती हैं जैसा कि इंग्लैंडमें हुआ था। बीसीसीआई पहले ही श्रीलंकाके बाएं हाथके थ्रोडाउन विशेषज्ञको नियुक्तकर चुका है जिससे कि भारतको पाकिस्तानके बाएं हाथके तेज गेंदबाजोंका सामना करनेमें दिक्कत नहीं हो। टीममें खलील अहमद भी मौजूद हैं जो बल्लेबाजोंको जरूरी अभ्यास करा सकते हैं। धवन, राहुल और पंड्या जैसे बल्लेबाजोंको विकेटकी अलग तेजी और लेंथसे सामंजस्य बैठाना होगा। बुमराह और भुवनेश्वर तथा कुलदीप और चहलका संयोजन एक बार फिर मैदानपर नजर आएगा जो पिछले एक सालसे भारतको अच्छे नतीजे दे रहा है। हांगकांगके खिलाफ मुकाबला भुवनेश्वरके लिए लय हासिल करनेका मौका होगा क्योंकि वह पीठकी चोटके कारण लंबे समय तक बाहर रहे हैं। उन्होंने हालमें दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ भारत ए की ओरसे वापसी की। भारत और पाकिस्तानके खिलाफ मैचके लिए टिकटोंकी कीमतें १६०० डालर (लगभग एक लाख १५ हजार रुपये) तक भी हैं। बुधवारको स्टेडियमके खचाखच भरा होनेकी उम्मीद है जबकि हांगकांग मैचके दौरान भी बड़ी संख्यामें भारतीय दर्शक मैदानमें पहुंच सकते हैं।

भारतको हरानेके लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा
दुबई (एजेन्सियां)। हांगकांगके खिलाफ एकतरफा जीतसे पाकिस्तानने एशिया कपमें शानदार शुरुआत की लेकिन टीमके कप्तान सरफराज अहमदने कहा कि उनकी टीमको अगर एशिया कपके बहुप्रतीक्षित मैचमें बुधवारको चिर प्रतिद्वंद्वी भारतको हराना है तो उसे अपने खेलमें काफी सुधार करना होगा। पाकिस्तानने रविवार रातको एशिया कपमें हांगकांगको आठ विकेटसे हराया। सरफराजने हालांकि कहा कि उनकी टीमको भारतके खिलाफ मुकाबलेसे पूर्व कुछ सुधार करने होंगे। सरफराजने मैचके बाद कहा, कप्तानके रूपमें मुझे कुछ चीजें नजर आती हैं, जिस पर काम करनेकी जरूरत है। टूर्नामेंटमें आगे तक जानेके लिए हमें इस (हांगकांग के खिलाफ) मैचको नौ या १० विकेटसे जीतनेकी जरूरत थी। उन्होंने कहा, हमें साथ ही नयी गेंदसे बेहतर गेंदबाजी करनेकी जरूरत थी। हमें नई गेंद से जल्दी विकेट चटकाने होंगे। नई गेंद को हम स्विंग नहीं करा पाए जो हमारे लिए आंखे खोलने वाला है। पाकिस्तानी कप्तान ने कहा, हम अपने अगले अभ्यास सत्र में इस पर काम करेंगे। यह अच्छी जीत थी, लेकिन भारत के खिलाफ जीत दर्ज करने के लिए खेल के तीनों विभागों में हमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। पाकिस्तान ने हांगकांग के ११७ रन के लक्ष्य को २३.४ ओवर में दो विकेट पर १२० रन बनाकर हासिल कर लिया। पाकिस्तान के लिए बाएं हाथ के तेज गेंदबाज उस्मान खान ने एक ही ओवर में तीन विकेट चटकाए और उन्हें मैन आफ द मैच चुना गया।
धोनीने कराया अभ्यास

नयी दिल्ली (एजेन्सियां)। भारतीय टीम एशिया कपमें अपना पहला मैच १८ सितंबरको हांगकांगके खिलाफ खेलेगी। इससे पहले टीमके सभी खिलाड़ी जमकर अभ्यास करते दिखाई दे रहे हैं। मुख्य कोच रवि शास्त्री १६ सितंबरको दुबई पहुंचे, जबकि टीम इनसे कुछ दिन पहले ही पहुंच चुकी थी। शास्त्रीकी गैरमौजूदगीमें पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी कोचकी भूमिका निभाते हुए नजर आए। टीम इंडिया दुबई एशिया कप शुरू होनेसे पहले पहुंच गई थी।


 जबकि हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक और रवि शास्त्री टीम से १६ सितंबर को जुड़े। एशिया कप में भारतीय टीम की कमान रोहित शर्मा को सौंपी गई है, जबकि विराट कोहली को आराम दिया गया। धोनी काफी समय बाद ग्राउंड पर नजर आए। उन्होंने अपना आखिरी मैच इंगलैंड में १७ जुलाई को खेला था। जिसके बाद अब वो एशिया कप में खेलते दिखेंगे। धोनी काफी समय से टीम इंडिया से दूर थे, क्योंकि उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। हांगकांग के मैच के बाद अगले ही दिन पाकिस्तान से टीम इंडिया भिड़ेगी।