Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


कश्मीरमें खुले मिडिल स्कूल, खुली दुकानें

श्रीनगर । कश्मीर घाटी में बुधवार से मिडिल स्कूल भी शुरू हो गये। प्रशासन की तैयारी है कि सप्ताह के अंत घाटी में अन्य स्कूलों को भी खोला जा सके। प्रमुख सचिव रोहित कंसल के अनुसार अधिकांश इलाकों से दिन की निषेधाज्ञा हटा ली गई है और जीवन सामान्यता की रफ्तार पकड़ रहे हैं। घाटी में एटीएम भी सुचारू तरीके से काम कर रहे हैं और लोग अपने निजी कार्यों के लिए पैसे निकाल रहे हैं। कंसल के अनुसार 12 दिनों में करीब आठ सौ करोड़ की निकासी हुई है। इससे यह बात तो साफ होती है कि लोग सामान्य जिन्दगी की तरफ आ रहे हैं। आफिसों में हाजिरी लग रही है और अंतर जिला परिवहन सुविधा भी शुरू हो गई है। सोमवार से घाटी में प्राइमरी स्कूल भी खुल गये हैं। घाटी में करीब 73 हजार के करीब लैंडलाइन बहाल कर दिये गये हैं। लाल चौक के आस-पास फोन सेवा बहाल करने के लिए बीएसएनएल तकनीकी खराबी को दूर करने में लगा हुआ है।  इंटरनेट बंद होने से कश्मीर में लोगों को अब रेडियो का सहारा है। लोग खुद को अपडेट करने के लिए रेडियो को टयून कर रहे हैं। जो रेडियो किसी की पूछ में नहीं थे वो अब सबसे बड़ा सहारा हैं। हांलाकि टैलीविजिन भी इसमें अहम भूमिका निभा रहे हैं।
-----------------------
 उत्तराखंडमें राहत सामग्री ले जा रहा हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, तीनकी मौत
उत्तरकाशी। उत्तराखंड में बाढ़ प्रभावित इलाकों के लिए राहत सामग्री ले जा रहा हेलीकॉप्टर उत्तरकाशी में क्रैश हो गया है. उत्तरकाशी जिले के मोरी से मोल्डी जाते समय हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ. हादसे में पायलट कैप्टन लाल, को पायलट शैलेश और उसमें सवार एक स्थानीय व्यक्ति की मौत हो गयी. बताया जा रहा है कि हेलीकॉप्टर  बिजली के तारों में उलझ गया और फिर क्रैश हो गया. सूचना पाकर मौके पर कई अधिकारी पहुंचे हैं.बता दें कि मोरी ब्लॉक में बाढ़ राहत कार्य के लिए तीन हेलिकॉप्टर लगाए गए थे. इन हेलीकॉप्टर से राहत सामग्री पहुंचाने का काम चल रहा था. बुधवार को भी तीनों हेलीकॉप्टरों से राहत कार्य जारी रखा गया. सुबह हेलीकॉप्टर राहत सामग्री लेकर देहरादून से उत्तरकाशी के मोरी के लिए निकला. मोरी से हेलीकॉप्टर मोल्डी जा रहा था. इस दौरान वह बिजली के तारों में फंस गया और क्रैश हो गया. क्रैश हुआ हेलिकॉप्टर हैरिटेज ऐविएशन का था और उसमें तीन लोग सवार थे. आपको बता दें कि उत्तराखंड में बीते कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है.