Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


बाजारमें चार दिनसे जारी गिरावटपर लगा विराम

मुंबई। स्थानीय शेयर बाजारों में पिछले चार कारोबारी दिवस से जारी गिरावट पर बुधवार को विराम लगा और बीएसई-सेंसेक्स में 429 अंक तथा एनएसई-निफ्टी में 133 अंक का उछाल आया। चीन में कोरोनो वायरस के नए मामलों में कमी आने की रिपोर्ट और भारत पर इस विषाणु के आर्थिक प्रभावों से निपटने के लिये जल्द कदम उठाने की केंद्र सरकार की घोषणा से निवेशकों की धारणा में सुधार दिखा। बीएसई का तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती के साथ खुला और दिन में 41,357.16 अंक तक चढ़ गया था। अंत में सेंसेक्स पिछले बंद से 428.62 अंक यानी 1.05 प्रतिशत बढ़ कर 41,323 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 133.40 अंक यानी 1.11 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,125.90 अंक पर बंद हुआ। बाजार में अच्छी हिस्सेदारी रखने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2.60 प्रतिशत मजबूत हुआ। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, एचयूएल, ओएनजीसी और एचडीएफसी में 2.79 प्रतिशत तक की तेजी आयी। दूसरी तरफ सन फार्मा, टीसीएस, भारती एयरटेल, एल एंड टी और इंडसइंड बैंक में 1.33 प्रतिशत तक की गिरावट आयी।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को चीन में फैले खतरनाक कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न स्थिति की समीक्षा के लिये औषधि, कपड़ा, रसायन, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी हार्डवेयर, सौर, वाहन, सर्जिकल उपकरण, पेंट, उर्वरक समेत विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना वायरस से वैश्विक बाजार में अफरातफरी का घरेलू उद्योगों पर पडऩे वाले संभावित प्रभावों से निपटने के लिये जल्दी ही कदम उठाएगी। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, '' ऐसी उम्मीद है कि सरकार दूरसंचार कंपनियों को कुछ राहत देने की योजना बना रही है, इससे बाजार में सकारात्मक प्रभाव पड़ा। वैश्विक मोर्चे पर कोरोना वायरस के नये मामले में कमी आयी है और करीब 80 प्रतिशत चीनी उपक्रमों में कामकाज शुरू हो गया है। यह आर्थिक पुनरूद्धार का संकेत है। खंडवार सूचकांकों में बीएसई ऊर्जा, स्वास्थ्य और तेल एवं गैस में 2.37 प्रतिशत की तेजी आयी। सभी 19 खंडवार सूचकांक लाभ में रहे। विदेशी मुद्रा बाजार छत्रपति शिवाजी महाराज जयंती के मौके पर बंद रहा। एशिया के अन्य बाजारों में भी तेजी रही। चीन में कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी की खबरों का वैश्विक बाजारों पर अच्छा असर पड़ा है। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरूआती कारोबार में तेजी दर्ज की गयी। चीन में मंगलवार को करोना वायरस के 1,749 नये मामलों की पुष्टि हुई। वहां के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बुधवार को कहा कि एक दिन पहले 1,886 मामलों की पुष्टि हुई थी। बुधवार का आंकड़ा 29 जनवरी के बाद सबसे कम है।
दोनों कीमती धातुओंमें तेजी

नयी दिल्ली। मजबूत वैश्विक कारकों की वजह से बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में सोने की कीमत 462 रुपए उछलकर 42,339 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गई। एचडीएफसी सिक्यूरिटीज ने यह जानकारी दी। सोने की तरह चांदी भी 1047 रुपए की तेजी के साथ 48,652 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई। एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा कि मंगलवार को सोने की कीमत 41,877 रुपए प्रति दस ग्राम थी। चांदी का भाव भी 47,605 प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ था। पटेल ने कहा कि मजबूत अंतरराष्ट्रीय कीमतों के बल पर दिल्ली में 24 कैरेट सोने का हाजिर भाव 462 रुपए उछलकर 42,000 रुपए के स्तर को पार कर गया। विवाह सीजन की मजबूत मांग और वैश्विक स्तर पर सोने की मजबूत कीमतों से आज दिन में सोने की कीमतों में जोरदार उछाल आया। पटेल ने कहा कि कोरोनावायरस की वजह से एप्पल द्वारा मार्च 2020 तिमाही में अपने राजस्व अनुमान के लक्ष्य को पूरा न होने की चेतावनी के बाद निवेशकों द्वारा सुरक्षित निवेश के लिए सोने की खरीद करने से भी कीमतों को बल मिला है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना और चांदी दोनों मजबूती के साथ कारोबार कर रहे थे। सोना 1606.60 डॉलर प्रति औंस और चांदी 18.32 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार करते हुए देखी गई।