Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


शाहीन बागकी डगरपर बेनियाबाग

बेनियाबाग पार्क पुलिस छावनी में तब्दील, पुलिस ने मेनगेट पर जड़ा ताला, आधा दर्जन गिरफ्तार
वाराणसी। चौक थाना क्षेत्र के बेनियाबाग पार्क में गुरुवार को दोपहर में शाहीनबाग सा नजारा दिखा जब पार्क में पहुंचे सैकड़ों महिलाओं ने सीएए और आरसी का विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया। प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया। प्रदर्शनकारी महिलाएं अपने हाथों में नौ एनआरसी और नौ सीएए के बैनर पोस्टर लिये थे। इसकी सूचना मिलते ही भारी फोर्स के साथ जिलाधिकारी, एसएसपी, एसपी सिटी और अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गये। विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोगों को पुलिस ने खदेड़ दिया। इस मामले मेें पुलिस ने आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया। पुलिस छावनी में बेनियाबाग पार्क तब्दील हो गया था। पुलिस पार्क में मेन गेट पर ताला जड़ दिया। कांगे्रस नेता सृष्टिï कश्यप के नेतृत्व में एक ही समुदाय की दर्जनों महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने के लिए गुरुवार को बेनियाबाग में जमा हुई थी। सामान्य तौर पर दर्जनों महिलाओं के साथ ही उनके बच्चे भी इस धरना-प्रदर्शन के दौरान महिलाओं के साथ मौजूद थे। सुरक्षा कारणों से महिला पुलिस बल की भी तैनाती कर दी गयी। पुलिस के अनुसार नयी दिल्ली के शाहीनबाग की तर्ज पर ही महिलाओं का वाराणसी के बेनियाबाग में धरना-प्रदर्शन और आन्दोलन की तैयारी थी। बेनियाबाग स्थित राजनारायण पार्क सीएए के विरोध में राजनीतिक आंदोलन का हिस्सा बनने की ओर था हालाकि पुलिस की सख्ती के बाद पुरा बेनियाबाग पार्क पुलिस छावनी में तब्दील हो गया।
सीएएका विरोध प्रदर्शनमें शामिल लोगोंको पुलिसने खदेड़ा
चौक थाना क्षेत्र के बेनियाबाग पार्क में गुरुवार को दोपहर में शाहीनबाग सा नजारा दिखा जब पार्क में पहुंची महिलाओं ने सीएए और आरसी का विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया। प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया। प्रदर्शनकारी महिलाएं अपने हाथों में नौ एनआरसी और नौ सीएए के बैनर पोस्टर लिये थे। इसकी सूचना मिलते ही भारी फोर्स के साथ जिलाधिकारी, एसएसपी, एसपी सिटी और अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गये। विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोगों को पुलिस ने खदेड़ दिया। इस मामले मेें पुलिस ने आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया। पुलिस छावनी में बेनियाबाग पार्क तब्दील हो गया था। पुलिस पार्क में मेन गेट पर ताला जड़ दिया। कांगे्रस नेता सृष्टिï कश्यप के नेतृत्व में एक ही समुदाय की दर्जनों महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने के लिए गुरुवार को बेनियाबाग में जमा हुई थी। सामान्य तौर पर दर्जनों महिलाओं के साथ ही उनके बच्चे भी इस धरना-प्रदर्शन के दौरान महिलाओं के साथ मौजूद थे। सुरक्षा कारणों से महिला पुलिस बल की भी तैनाती कर दी गयी। पुलिस के अनुसार नयी दिल्ली के शाहीनबाग की तर्ज पर ही महिलाओं का वाराणसी के बेनियाबाग में धरना-प्रदर्शन और आन्दोलन की तैयारी थी। बेनियाबाग स्थित राजनारायण पार्क सीएए के विरोध में राजनीतिक आंदोलन का हिस्सा बनने की ओर था हालाकि पुलिस की सख्ती के बाद पुरा बेनियाबाग पार्क पुलिस छावनी में तब्दील हो गया।
----------------------
भत्तों को बन्द किये जाने के खिलाफ एमआरएमयू का कैण्ट स्टेशन पर प्रदर्शन

नार्दन रेलवे मेस यूनियन वाराणसी की तीनों शाखाओं की ओर से गुरुवार को कैण्ट स्टेशन स्थित लाबी के समक्ष रेलवे प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। यह विरोध प्रदर्शन के एमएटीए एनडीए तथा एनएचए आदि भन्तों को बन्द किये जाने के खिलाफ था। लखनऊ रेल मंडल के सीनियर डीएएफएम ने अत्यधिक बजट व्यय बता कर किया था। अधिकारी के इस तुगलकी फरमान से कर्मचारियों में रोष व्याप्त हो गया। इसे गम्भीरता से ले हुए यूनियन के पदाधिकारियों ने आदेश को वापस लेने का डीएफएम पर दबाब डालना शुरू किया। उनकी मेहनत रंग लायी और गुरुवार को छोड़कर बाकी भन्तों को कर्मचारियों के वेतन के साथ भुगतान करने का आदेश जारी किया। प्रदर्शनकारी यूनियन नेताओं ने चेतावनीदी कि यदि भविष्य में ऐसी तुगलकी फरमान जारी होगे तो यूनियन इसे बर्दाश्त नहीं करेगा। विरोध प्रदर्शन में मंडल अध्यक्ष राजेश सिंह, सुनील सिंह, डीके सिंह, राजेश्वर शुक्ल, राजकुमार, एससी गौतम, रामतीरथ, आरके पोद्दार, प्रेम चौधरी, तफजील अहमद, अखिलेश कुमार, विवेक सिंह, बलवन्त गुप्त, पवन उपाध्याय, टीपी सिंह आदि कर्मचारियों ने हिस्सा लिया।