Mob: +91-7905117134,0542 2393981-87 | Mail: info@ajhindidaily.com


भारतीय सेनाने अरुणाचलमें भी झोंकी पूरी ताकत

छह विवादित इलाकोंचार संवेदनशील इलाकों में विशेष सतर्कता

ईटानगर/नयी दिल्ली(आससे.) लद्दाखमें भारत सेमिल रही कड़ीचुनौती के बीचचीन ने अरुणाचलसीमा पर चहलकदमीबढ़ा दी है।जवाब में भारतीयसेना भी पूरीतैयार है औरचीन से सटे1962 के युद्ध के समयके '6 विवादित इलाकोंÓऔर '4 संवेदनशील इलाकोंÓमें सतर्कता बढ़ाईहै। एक उच्चपदस्थ रक्षा सूत्रने बताया, इनचार विवादित इलाकोंके नाम असापिला,लोंगजू, बीसा औरमाझा हैं औरये अपर सुबानसिरीजिले में स्थितहैं। यहां चीनने एलएसी केपास एक रोडभी बना लीहै। उन्होंने आगेबताया, चीन पूरेअसापिला सेक्टर पर अपनाअधिकार जताता है औरइसलिए इसको लेकरकाफी विवाद है।सूत्र ने बताया,बेहद ऊंचाई परस्थित असापिला सेक्टरभारत और चीनदोनों के लिएही बेहद मुश्किलपोजिशन है औरजाड़ों में चीनीसेना यहां टिकनेकी हिम्मत नहींजुटा सकती। वेयहां से अगले6 महीनों के लिएपूरी तरह कटजाएंगे।' बता देंकि मई महीनेमें चीनी सेनाने 21 वर्षीय एकयुवक का असापिलासेक्टर से हीअपहरण कर लियाथा। हालांकि 19 दिनोंबाद उन्होंने उसेभारतीय सेना केहवाले कर दियाथा। लद्दाख मेंपिछले कुछ महीनोंसे जारी तनावके बीच चीनीसेना ने अरुणाचलप्रदेश से सटेहिस्सों में अपनीमूवमेंट बढ़ाई है। हालांकिचीन की हरहरकत पर भारतीयसेना और सुरक्षाएजेंसियों के अफसरनजर बनाए हुएहैं। उधर चीनकी किसी भीलद्दाख और गलवानघाटी जैसी किसीभी हरकत सेनिपटने के लिएभारतीय सेना भीपूरी तरह तैयारहै और चीनीसीमा पर पैट्रोलिंगबढ़ाई गई है।सूत्रों के मुताबिक,लद्दाख में भारतीयजवानों से मातखा चुका चीनअब अरुणाचल प्रदेशसे लगी सीमापर किसी नापाकहरकत की साजिशका प्रयास कररहा है। इसकेलिए पीपल्स लिब्रेशनआर्मी के जवानोंको बड़ी संख्यामें तैनात करनेका काम शुरूकिया है। इसकेअलावा इस हिस्सेके अंदरूनी इलाकेमें भी चीनीसेना की मूवमेंट्सदेखी गई है।

इन सभी परभारत की सरकारपूरी नजर बनाएहुए हैं औरसेना भी रणनीतिके स्तर परपूरी तरह सेसतर्क है।