Mob: +91-7905117134,0542 2393981-87 | Mail: info@ajhindidaily.com


यूपीके १६ जिलोंमें बाढ़से स्थिति और बिगड़ी

५०० से ज्यादा गांव संकटमें, २७५ का कटा संपर्क
लखनऊ,12 अगस्त 2020 (यूएनएस)। उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार के बावजूद 16 जिलों के 500 से ज्यादा गांव सैलाब से प्रभावित हैं। प्रदेश के राहत आयुक्त संजय गोयल ने बुधवार को बताया कि इस समय प्रदेश के 16 जिलों आंबेडकर नगर, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, देवरिया, गोण्डा, गोरखपुर, खीरी, कुशीनगर, मऊ, संतकबीर नगर तथा सीतापुर के 523 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। इनमें से 275 गांवों का संपर्क बाकी स्थानों से पूरी तरह कट गया है। उन्होंने कहा कि कहीं भी बाढ़ की स्थिति बेहद चिंताजनक नहीं है और सैलाब से घिरे गांवों की संख्या में धीरे-धीरे कमी हो रही है। गोयल ने बताया कि प्रदेश में बाढ़ पीडि़तों के ठहरने के लिए कुल 300 बाढ़ शरणालय स्थापित किए गए हैं। मौजूदा वक्त में 3 जिलों के 16 शरणालयों में 1226 लोग रह रहे हैं। हालात पर नजर रखने के लिए प्रभावित इलाकों में कुल 735 बाढ़ चौकियां स्थापित की गई हैं और राहत तथा बचाव कार्य के लिए 645 नौकाओं का इस्तेमाल किया जा रहा है। राहत आयुक्त ने बताया कि बाढ़ से प्रभावित परिवारों को राहत सामग्री का निरंतर वितरण किया जा रहा है अब तक 56783 खाद्यान्न किट बांटी जा चुकी हैं। प्रभावित जिलों में बाढ़ से घिरे लोगों का पता लगाने और उनके बचाव के लिए एनडीआरएफ की 15 टीमें तथा एसडीआरएफ और पीएसी की सात टीमें लगाई गई हैं। बाढ़ पीडि़तों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 265 मेडिकल टीमें भी बनाई गई हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं बाढ़ राहत शरणालयों में रह रहे किसी भी व्यक्ति में ज्वर, खांसी, सिरदर्द होने पर उन्हें बाकी शरणार्थियों से अलग किया जाय और कोविड-19 संबंधी प्रोटोकॉल के मद्देनजर आवश्यकता अनुसार जांच, भर्ती, उपचार की कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए हैं।  
------------------------
 बीते 24 घंटें में अधिकांश जगहों पर सक्रिय रहा मानसून
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे के दौरान अधिकांश जगहों पर मानसून सक्रिय रहा। पूर्वी उत्तर प्रदेश में अधिकतर स्थानों और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ जगहों पर बारिश हुई। मौसम विभाग ने बुधवार को बताया कि सबसे अधिक 22 सेंटीमीटर बारिश एल्गिनब्रिज-बाराबंकी में रिकार्ड की गयी। सोरांव-प्रयागराज में 17 सेंटीमीटर, सिधौली-सीतापुर में 12, सलेमपुर-देवरिया और वाराणसी में दस दस, आजमगढ़ और भाटपुरवाघाट-सीतापुर में नौ नौ, चुनार-मीरजापुर, सुल्तानपुर, लखनऊ, हमीरपुर में आठ-आठ तथा अयोध्या, हैदरगढ-बाराबंकी में सात-सात सेंटीमीटर पानी बरसा।