Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


टिकट मांगों, मगर न मिलनेपर बगावत नहीं


मउ। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रा देव सिंह घोसी उप चुनाव के मद्देनजर बुध्वार को ट्रेन से मउफ पहुॅचे। जहां से कापिफला में उनका घोसी पहुॅचना हुआ,जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोध्ति किया। इस दौरान जगह-जगह टिकट पाने की होड़ में शामिल भाजपा कार्यकर्ताओं ने शक्ति प्रदर्शन कर उनका स्वागत किया। ट्रेन से उतरने के बाद उन्होंने गाजीपुर तिराहा पर स्थित पं.दीनदयाल उपाध्याय की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और पास में ही गिरहस्त प्लाजा में आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन किया। भीटी चैराहे पर अम्बेडकर प्रतिमा,बलिया मोड़ पर सरदार पटेल की प्रतिमा पर भी उन्होंने माल्यार्पण किया।  कोपागंज;मउफद्ध। प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत में यहां भारी संख्या में बुर्काधरी महिलाएं भी सड़क पर उतर आयीं जो चर्चा का विषय बना रहा। उन्होंने कहा कि कार्यकता की परिक्रमा करो, नेता  की नहीं। नरेंद्र मोदी के संघर्ष की कहानी बताई । गरीबों के लिए प्रधनमंत्राी की योजनाओं का महिमा मंडन किया । दुबई में मंदिर के निर्माण ,विदेशों में उनकी सपफलता की बात की, जहां जातिवाद है ,गुटबाजी है वह समाप्त हो जाएगा ,उन्होंने कहा कि योगी और मोदी का लक्ष्य जनता की सुविध है । गुंडागर्दी का अंत हुआ है । टिकट मांगना मेरा कर्तब्य है लेकिन उसके न मिलने पर विरोध् हमारा संस्कार नहीं , गांवों को जोड़ने का काम अटल जी ने किया । सेना को सम्मान दिलाया ,कमल बहुत ताकतवर है ,हमारे पूर्वज गौरवशाली रहें हैं ,हम गरीबों को सम्मान देते हंै  । यह कार्यकर्ताओं की पार्टी है । कार्यकर्ता ठंडा सोचो ,मीठा बोलो ,बेटी का घर में अपमान न करो ,बेटियों को पढ़ाओ, मोदी और अब्दुल कलाम बनाओ,कमल आयेगा और इसको खिला देना ,हमेशा खिलाते हैं । पँक्ति के अंतिम ब्यक्ति का मकान और सुविधएं न हो तब तक चलते रहो । मुहल्ले के एक ब्यक्ति को भी आप से तकलीपफ न हो। उनके साथ मंत्राी पफागू चैहान और अनिल राजभर भी पहुॅचे थे।
..................
हत्याके इरादेसे ही आयीं थीं युवतियां
रतनपुरा;मउफद्ध। हलध्रपुर थाना क्षेत्रा के मझौली निवासी हाल ही में पफारेस्ट गार्ड पद पर नियुक्त हुआ अशोक की मंगलवार को दिन दहाड़े दो युवतियों द्वारा चाकू मारकर हत्या कर आराम से पफरार हो जाने के मामले का पर्दापफाश अशोक की मोबाइल से होगा। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है और सर्विलांस पर लगा दिया है। दो युवतियों का अशोक के घर आना, उसकी भाभी से मिलकर पूछना,पफोटो दिखाना ,बड़े भाई के घर आ जाने पर चले जाना,रास्ते में अशोक का मिल जाना,घंटों बातंे करना और पिफर चाकू मारकर पफरार हो जाना किसी पिफल्मी स्टोरी से कम नहीं है। इन सबका पर्दापफाश तो पुलिस करेगी,इसके पूर्व इस घटना का सबसे आश्चर्यजनक पहलू यह है कि युवतियों के पास एकाएक चाकू कहां से आ गया। जिससे यह साबित होता है कि युवतियां हत्या के इरादे से ही चाकू लेकर आयी थीं। अभी तक तो इस तरह की घटना लोगों ने क्षेत्रा में नहीं सुनी थी। जिसकी सच्चाई जानने के लिए हर कोई उत्सुक नजर आ रहा है।
मशीनी युग में इस हत्याकांड के पर्दापफाश में बहुत देर नहीं लगनी है। एक दो दिन में ही इस घटना का पर्दापफाश हो जाना है। जिसको लेकर लोग पुलिस की कार्य प्रणाली पर टकटकी लगाये हुए हैं।

तहसीलदारका पद रिक्त, पफरियादी परेशान
मुहम्मदाबाद गोहना;मऊद्ध। मुहम्मदाबाद गोहना तहसीलदार का स्थानांतरण हो जाने से न्यायालय का कार्य पूरी तरह से ठप हो चला है। इसे लेकर वादकारियों को भारी परेशानी हो रही है। अध्विक्ताओं एवं वादकारियों ने अविलंब किसी तहसीलदार के नियुक्त कराने की मांग किया है। यहां रहे तहसीलदार चंद्रभूषण प्रताप का 20 दिन पूर्व गैर जनपद बस्ती जिले में स्थानांतरण हो गया तब से यह पद रिक्त चल रहा है हालांकि जिला प्रशासन ने तहसीलदार न्यायालय का कार्यभार छोड़कर अन्य प्रशासनिक का चार्ज नायब तहसीलदार जावेद अंसारी को दिया है । परंतु तहसीलदार के न होने से न्यायालय का कार्य बंद चल रहा है। वादकारी अपने मुकदमे की पैरवी के लिए बार-बार यहां चक्कर लगाने को मजबूर हैं। तहसील के दूर दराज गांव से अपना मुकदमा देखने के लिए आ रहे लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अध्किारी के न रहने पर अध्क्तिा अपने मोअक्किल को तारीख पर तारीख देकर बैरंग घर को वापस लौटा दे रहे हैं। तहसील से निराश होकर घर जा रहे वादकारियों के जुबान पर बस एक ही सवाल रहता है कि यहां तहसीलदार कब नियुक्त होंगे। वहीं इस बाबत तहसील के अध्किारियों कर्मचारियों द्वारा बार-बार आश्वासन दिया जाता है कि 2 से 3 दिन में कोई अध्किारी  अवश्य चार्ज ले लेगा। इस तरह से 20 दिन गुजर गए परंतु अभी तक किसी तहसीलदार की नियुक्ति नहीं हो पाई।