Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नवीनतम समाचार » आज़मगढ़ समाचार

आज़मगढ़ समाचार

लक्ष्य किया निर्धारित, तेजी लानेका दिया निर्देश
आजमगढ़। मुख्यमंत्री जी के विकास प्राथमिकताओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थियों का सत्यापन स्वयं करें, यदि किसी ब्लाक से लक्ष्य वापस होगा और बाद में कोई लाभार्थी पात्र पाया गया तो संबंधित के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास रजिस्ट्रेशन में धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की तथा उसमें तेजी लाने के निर्देश दिये। जनपद में कुल 7006 आवास का लक्ष्य निर्धारित है। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को स्वच्छता सर्वेक्षण एवं पात्र लाभार्थियों की सूची बनाने की कार्यवाही खुली बैठक कर पूर्ण करने के निर्देश दिये तथा कहा कि इसमें किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी। जिलाधिकारी ने 15 अगस्त को जनपद में लगाये जाने वाले पेड़ों के लक्ष्य के सापेक्ष सभी विभाध्यक्षों को निर्देश दिये कि अपने-अपने लक्ष्य के सापेक्ष गड्ढ़े खुदवा लें तथा 15 अगस्त के दिन सारे पौधे लगाने की व्यवस्था कर लें, इसमें किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी।  जिलाधिकारी ने बताया कि इस वर्ष जनपद में कुल 16 लाख पच्चास हजार पेड़ लगाने हैं तथा जिनमे 15 अगस्त के दिन 1308406 पेड़ लगाये जाने हैं, इसके लिए जिले में नोडल अधिकारी का आगमन भी हो रहा है। उक्त अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा, आवास, टीकाकरण, कृषि, वन, शिक्षा, स्थानीय निकाय, लो0नि0वि0, आरईएस सहित सभी विभागों के कार्यक्रमों की समीक्षा की गयी तथा 50 लाख के ऊपर निर्माण कार्यों की समीक्षा की गयी। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार उपाध्याय, जिला विकास अधिकारी रवि शंकर राय, पीडी दुर्गादत्त शुक्ल, डीएफओ सुधीर श्रीवास्तव, डीपीआरओ आनन्द प्रकाश श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी डॉ0 जितेन्द्र प्रताप सिंह, सीवीओ, डीएसटीओ, समस्त खण्ड विकास अधिकारी एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।
स्वच्छ भारत मिशनमें लगे कर्मियोंने सौंपा ज्ञापन
आजमगढ़। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना अंतर्गत कार्यरत कर्मचारियों ने जिलाधिकारी कार्यालय पहुंच कर प्रदर्शन किया तथा 8 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा। कर्मचारियों ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना में कार्यरत समस्त आउटसोर्सिंग कर्मचारी मिशन को पूर्ण करने में जी जन से लगे हुए हैं जिससे कि राज्य सरकार द्वारा निर्धारित समय से पहले ही जिले को ओडीएफ किया जा सके। लेकिन इस बीच कुछ विभागीय समस्याएं सामने आ रही हैं जिन्हें दूर किया जाना आवश्यक है। कर्मचारियों ने कहा कि निकाले गये कर्मचारियों को यदि वापस नहीं किया जाता है तो वे सामूहिक रूप से त्याग पत्र देने को विवश होंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर खंड प्रेरक एवं कम्प्यूटर आपरेटर की तैनती विकास खंड से 40 से 60 किमी दूर है। कार्य समाप्त कर घर पहुंचने में रात्रि के एक बज जाते हैं इसलिए होम ब्लाक में तैनाती की जाय। सेवा प्रदाता एजेंसी की तरफ से सेलरी स्लिप उपलब्ध करायी जाय। प्रतिमाह माह के अन्त में सेलरी का भुगतान किया जाय।
बैठक आज
आजमगढ़। मुख्य विकास अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी (पं0) अनिल कुमार उपाध्याय ने बताया है कि वर्तमान में त्रिस्तरीय पंचायत उप निर्वाचन माह अगस्त सम्पन्न कराये जाने की कार्यवाही चल रही है।  त्रिस्तरीय पंचायत उप निर्वाचन माह अगस्त को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 14 अगस्त को सांय 5 बजे नवीन कलेक्ट्रेट सभागार आजमगढ़ में बैठक आहूत है।
प्रेम की भावना का त्यौहार है रक्षाबंधन
निजामाबाद, आजमगढ़। रक्षाबंधन  का त्यौहार प्रेम के साथ स्नेह बंधन रक्षा के संकल्प भाव को लेकर आता है। यह त्यौहार राखी यानि रक्षा सूत्र के बिना पूरा नही होता। वामन पुराण के अनुसार एक बार जब भगवान् विष्णु ने वामन अवतार लेकर राजा बलि से तीन पग में उनका सब कुछ ले लिया तब राजा बलि ने भगवान् विष्णु से एक वरदान मांगा वरदान में बलि ने विष्णु भगवान को पाताल में उनके साथ निवास करने का आग्रह किया भगवान विष्णु को वरदान के कारण पाताल में जाना पड़ा। इससे देवी लक्ष्मी को बड़ी परेशानी हुई। लक्ष्मी जी भगवान विष्णु को राजा बलि से मुक्त करवाने के लिए वेश बदलकर पाताल पहुच गई। देवी लक्ष्मी ने बलि को भाई बना लिया और एक रक्षा सूत्र बलि की कलाई में बाध दिया। राजा बलि ने जब लक्ष्मी जी से कुछ मांगने के लिए कहा तब मांग स्वरूप लक्ष्मी जी ने भगवान विष्णु को पाताल से वैकुण्ठ जाने के लिए कहा। बहन की बात रखने के लिए बलि ने भगवान विष्णु को देवी लक्ष्मी के साथ वैकुण्ठ विदा कर दिया। तब भगवान विष्णु ने बलि को यह वरदान दिया कि चातुर्थमास की अवधि में वे पाताल में आकर निवास किया करेगें। इसके बाद से हर साल चार महीने भगवान विष्णु पाताल में रहते है। इस घटना को स्मरण रखने के लिए ही रक्षा सूत्र का मंत्र बना इस मंत्र का अर्थ है कि जिस रक्षा सूत्र से महान शक्तिशाली दानवेन्द्र राजा बलि को बाधा गया था। उसी रक्षा बंधन से मैं तुम्हें बांधता  हूं। तुम स्थिर रहना एक पौराणिक कथा के अनुसार देवासुर संग्राम में एक बार जब देवता हारने लगे तब वे देवराज इंद्र के पास गए देवतायों को भयभीत देखकर इन्द्राणी ने उनके हाथों में रक्षा सूत्र बाध  दिया। इससे देवतायों का आत्मविश्वास बढा और उन्होंने दानवो पर विजय प्राप्त की मान्यता है कि तभी से रक्षा के लिए राखी बांधने की प्रथा शुरू हुई महाभारत में ही रक्षा बंधन से सम्बंधित कृष्ण और द्रोपदी का एक और घटनाक्रम मिलता है। जब श्रीकृष्ण ने सुदर्शन चक्र से शिशुपाल का वध किया तब उनकी तर्जनी उंगली में चोट आ गई थी। द्रोपदी ने उस समय अपनी साड़ी फाड़कर उनकी ऊँगली पर पट्टी बांध दी थी। वह दिन भी श्रावण मास की पूर्णिमा का दिन था। पुराण कथायो के अनुसार भगवान् विष्णु ने वामन अवतार धारण कर राजा बलि के अभिमान को रक्षा बंधन के दिन ही चकनाचूर किया था। इसी दिन चित्तौड़ की रानी कर्मवती ने मुगल बादशाह हुमायू को राखी भेजकर उसे अपना भाई बनाया था और वह भी संकट के समय उनकी रक्षा के लिए चित्तौड़ आ पंहुचा था। यह कोई जरुरी नही की भाई बहन के मधुर रिश्ते केवल पारिवारिक संबंधों में ही पनपते है। परिवार के दायरे से बाहर जाकर भी ये रिश्ते पनपते है और अपना महत्व दरसाते है उदाहरण के लिए सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी और महादेवी वर्मा के बीच भाई बहन का रिश्ता था। रक्षाबंधन के दिन निराला जी महादेवी जी के घर जाते थे और उनसे राखी बंधवाते थे। इस दिन एक ओर जहा बहनो के मन में भाइयो को तिलक करके राखी बाधने व मिष्ठान खिलाकर मुह मीठा करने का भाव होता है। वहीं भाइयो के अंदर बहन को खुश करने व उनकी सुरक्षा का दायित्वबोध लेने का भाव भी मन में पनपता है।
शिक्षकोंके धैर्यकी परीक्षा न ले सरकार
आजमगढ़। सातवें वेतन को अविलम्ब लागू करने सहित कई लम्बित मांगो को लेकर प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर श्री दुर्गा जी स्नातकोत्तर महाविद्यालय चंडेश्वर में महाविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डा प्रवेश की अध्यक्षता में काली पट्टी बांधकर शिक्षक विशाल धरने पर बैठ गये। जिसमे निर्णय हुआ कि प्रदेश के डिग्री शिक्षकों की मांगों को लेकर सरकार अविलम्ब सकारात्मक निर्णय नहीं लेती है तो शिक्षक व्यापक स्तर पर रणनीति बनाकर आंदोलन को बाध्य होंगे। महाविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डा प्रवेश सिंह ने कहाकि शिक्षकों के प्रति सरकारे न जाने क्यों उपेक्षात्मक रवैया अख्तियार किये हुए है। जब कि शिक्षक देश के लिए नये पौध तैयार करने का काम करती है। फुपुक्टा की मांग के प्रति सरकार उदासीन है। जिसको लेकर प्रदेश कार्य समिति ने 25 जुलाई को शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर उन्हें सातवें वेतन को अविलम्ब लागू करने, पुरानी पेंशन योजना बहाल किये जाने तथा बचे हुए मानदेय शिक्षकों का तत्काल आमेलन किये जाने आदि सहित अपनी लम्बित मांगों से अवगत कराया गया। लेकिन सरकार शिक्षकों के प्रति  हठवादिता अख्तियार किये हुए हुए जबकि शिक्षक स्नेह का भूखा होता है। डा प्रवेश सिंह ने आगे कहा कि शासन हम शिक्षकों को सातवें वेतन का लाभ नहींं देकर अपनी नीति और नियत से सभी को परिचित करा रही है लेकिन हमारी मांगो के प्रति सरकार सकरात्मक रूख अख्तियार नहीं करती है तो बाध्य होकर हमें अगली रणनीति बनानी होगी। जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन की होगी। अंत में श्री सिंह ने शिक्षकों में जोश भरते हुए कहा कि आगे का धरना ऐतिहासिक बनाकर सरकार को जगाने का कार्य करे। जिला इकाई के महामंत्री अजीत प्रताप सिंह ने कहा कि अपने संघर्ष के बूते हम इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाकर ही मानेंगे क्योंकि सरकार केवल शिक्षकों के प्रति उदासीन है क्योंकि उन्होंने हमारी शीतलता ही देखी है मांगे पूरी नहीं हुई तो हमारे उग्र रूप से भी परिचित होंगे। पूर्व प्राचार्या मधुबाला राय व डा ईश्वरचन्द्र त्रिपाठी ने भी सरकार के हठवादिता पर रोष जताते हुए आर-पार की लड़ाई लडऩे की बात कही। धरने को पूर्वांचल विश्वविद्यालय इकाई के सहमंत्री डा राजीव त्रिपाठी व पूर्व प्राचार्य डा फूलचन्द सिंह ने समर्थन किया। धरने में डा दुर्गावती, डा वीरेन्द्र दुबे, डा राजेश, डा विष्णु, डा मुकुल, डा आरके, डा अशोक, डा कौशल, डा रामजी, डा सुनील, डा सर्वेश, डा हर्ष, डा मौर्य सहित भारी संख्या में शिक्षक साथी मौजूद रहे।
राज्यमंत्री का आगमन १९ को
आजमगढ। अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति आयोग, बृजलाल, आईपीएस सेवानिवृत्त, राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त, का जनपद आजमगढ़ में भ्रमण कार्यक्रम के अन्तर्गत 19 अगस्त को संतकबीर नगर से प्रस्थान कर आजमगढ़ आयेंगे। तत्पश्चात 20 अगस्त को पूर्वान्ह 9 बजे से 10.30 बजे तक जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, मुख्य चिकित्साधिकारी एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी, आजमगढ़ से अनुसूचित जाति/जनजाति से संबंधित मामलों की समीक्षा बैठक करेंगे। तत्पश्चात पूर्वान्ह  10.35 बजे से पूर्वान्ह 11.30 बजे तक सम्मेलन करेंगे। उसके बाद अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति आयोग द्वारा जनमानस को एससी/एसटी एक्ट के अन्तर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता के सम्बन्ध में अवगत कराया जायेगा तथा आयोग द्वारा जारी परिपत्र को वितरित किया जायेगा।
प्रमुख सचिव जनपदमें कल
आजमगढ। प्रमुख सचिव, आवास एवं शहरी नियोजन विभाग नितिन रमेश गोकर्ण जी का जनपद आजमगढ़ में भ्रमण कार्यक्रम के अन्तर्गत 15 अगस्त को लखनऊ से प्रस्थान कर 11बजे आजमगढ़ आयेंगे। तत्पश्चात प्रमुख सचिव जी वृक्षारोपण कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे तथा उसका पर्यवेक्षण करेंगे। उसके बाद प्रमुख सचिव जी 16 अगस्त को 7.30 बजे लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।
टास्क फोर्स समितिकी बैठक १६ को
आजमगढ़। रंजन चतुर्वेदी, उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र ने बताया है कि मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजनान्तर्गत रू0 25 लाख तक की ऋण परियोजनाओं/उद्यमों की स्थापना हेतु शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के अभ्यर्थियों द्वारा प्रस्तुत आवेदन पत्रों पर निर्णय हेतु टास्कफोर्स समिति की बैठक 16 अगस्त को पूर्वान्ह 11बजे से विकास भवन आजमगढ़ में आयोजित है। उन्होने कहा है कि संबंधित अभ्यर्थी विकास भवन आजमगढ़ में निर्धारित तिथि पर मूल प्रमाण पत्रों सहित भाग लेना सुनिश्चित करें। विस्तृत जानकारी हेतु नोटिस बोर्ड/कार्यालय जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र आजमगढ़ से सम्पर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
राज्यमंत्रीका आगमन २१ को
आजमगढ। राज्यमंत्री, खाद्य एवं रसद, नागरिक आपूर्ति, किराया नियंत्रण, उपभोक्ता संरक्षण, बॉट-माप, खाद्य सुरक्षा औषधि प्रशासन, उ0प्र0, अतुल गर्ग जी का जनपद आजमगढ़ में भ्रमण कार्यक्रम के अन्तर्गत 21 अगस्त को जनपद मऊ से प्रस्थान कर 15 बजे आजमगढ़ आयेंगे। तत्पश्चात मा0 राज्यमंत्री जी सर्किट हाउस आजमगढ़ में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। उसके बाद राज्यमंत्री जी 16 बजे लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।
जिलाधिकारी ने पौध रोपण के लिए किया प्रेरित
 आजमगढ़। जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी के नेतृत्व में स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा तमसा महा सफाई अभियान तृतीय चरण के अन्तर्गत 72वां दिन नरौली पुल के नीचे घाट पर सैकड़ों पौधे लगाये गये। जिलाधिकारी ने नरौली मोहल्ले के उत्साहित युवकों को अपने इलाके में पौधरोपण करने के लिए प्रेरित किया और उन्हे पौधा भेंटकर उसकी रक्षा करने और अपने साथ नये युवाओं को टीम के रूप में गठित कर पौधों को लगाने और उसकी सुरक्षा करने की जिम्मेदारी सौंपी, जिससे उत्साहित युवकों ने वृक्षारापेण अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। जिलाधिकारी द्वारा दिनांक 14 अगस्त को सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल मुबारकपुर में वृक्षारोपण के महाअभियान के अन्तर्गत बच्चों के साथ मिलकर एक हजार पौधों का पौधरोपण किया जायेगा। अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह ने नगर वासियों को इस महा अभियान में जुडऩे के लिए लोगों का धन्यवाद ज्ञापित किया। पूर्वांच्चल विकास आन्दोलन के संयोजक प्रवीण सिंह ने बताया कि व्यवसायिक संगठन व बैंक के साथ कई विद्यालय व संस्थायें वृक्षारोपण करने के लिए तैयार हैं। उन्होने बताया कि ड्रगिस्ट एवं केमिस्ट एसोसिएशन के सुधीर अग्रवाल, रंजन राय के द्वारा इस वृक्षारोपण कार्यक्रम में 500 पौधे का सहयोग किया जायेगा। उन्होने बताया कि हम आह्वान करते हैं कि नगर वासियों एवं संस्थाओं के लोग तथा आम जन मानस इस अभियान में हिस्सा लें। इस अवसर पर तमसा महा सफाई अभियान के तृतीय चरण में डीएफओ सुधीर श्रीवास्तव, एसडीएम सदर प्रकाश चन्द्र, सीपीएस के प्रबन्धक अयास अहमद, राष्ट्रीय कला सेवा संस्थान के अरविन्द चित्रांश, नगर पालिका के कर्मचारियों आदि लोग पौधारोपण अभियान में शामिल रहे।
टूटे स्तम्भ पर ध्यान नहीं दे रहा प्रशासन
सगड़ी, आजमगढ़। विकास खंण्ड महाराजगंज के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के नाम का लगा स्तंभ करीब 5 साल से टूटा पढ़ा हुआ है। टूटे स्तंभ की तरफ ना तो शिक्षा विभाग ना विकास खंण्ड कार्यालय ना नगर पंचायत के किसी जिम्मेदार अधिकारीयो का ध्यान नहीं जा रहा है जबकि पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया जाएगा लेकिन विकास खंण्ड महाराजगंज में शिक्षा विभाग के लोग भी इधर ध्यान नहीं दे रहे हैं प्राथमिक विद्यालय के बच्चे उस पर खड़े होकर चारों तरफ नाम पढ़ते हैं और अपने घर पूछते हैं कि विद्यालय में एक पत्थर लगा है जो टूटा है उसके चारों तरफ लगी सीखने भी टूट गई हैं।
शिक्षकोंने किया कार्य बहिष्कार
बूढऩपुर, आजमगढ़। विकास खण्ड कोयलसा के गांधी शताब्दी स्मारक स्नातकोत्तर महाविद्यालय के शिक्षक एआई फुकटा के आह्वान पर महाविद्यालय के शिक्षक काली पट्टी बांधकर शिक्षण कार्य का बहिष्कार किया। 13,14 अगस्त को संघ की प्रमुख मांग सातवें वेतन मानदेय शिक्षको का अनुदानित महा विद्यालय के स्व वित्त पोषित पाठ्यक्रम में अध्य्यापनरत  शिक्षको  के विनियमितीकरण की मांग के क्रम में कक्षा का बहिष्कार किया। इसी क्रम में महाविद्यालय के प्राचार्य अशोक कुमार सिंह,ओमप्रकाश सिंह, डॉ श्याम बृक्ष मौर्य, डॉ.स्वस्स्तिक सिंह, गौरव सिंह, डॉ0 धीरेंद्र कुमार मिश्र,यशवंत सिंह, डॉ0 दुष्यंत कुमार त्रिपाठी, आलोक सिंह ,गौरव सिंह ,गणेश, सहित अन्य लोग उपस्थित थे।
मारपीटका आरोप, कप्तानसे लगायी गुहार
आजमगढ़। तरवां थानान्तर्गत बनगांव निवासी एक व्यक्ति ने गांव के कुछ लोगों पर बेटे को मारपीट कर घायल करने का आरोप लगाते हुए पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगायी। कप्तान कार्यालय पहुंचे उक्त गांव निवासी अरविन्द चमार पुत्र सल्पू चमार ने आरोप लगाते हुए कहा कि विगत दस अगस्त को उसका बेटा अपने दरवाजे पर बैठा था। गांव के कुछ मनबढ़ लोग दरवाजे पर पहुंच गये और लड़के राजन राम को मां बहन की गाली देते हुए लात घूसों से मारने पीटने लगे। वह जान बचाने के लिए घर में भागा तो दबंगों ने घर में घुस कर मारा पीटा। कुछ ग्रामीण मौके पर पहुंच गये और बीच बचाव किये। ग्रामीणों के पहुंचने पर दबंग जान माल की धमकी देते हुए भाग गये। पीडि़त पिता ने प्रार्थना पत्र देते हुए रिपोर्ट दर्ज करते हुए कानूनी कार्यवाही करने की गुहार लगायी। इस मौके पर वीरेंद्र गौतम, सुनील कुमार राव, कल्पनाथ, रामायन राम, सतिराम, रामनरायन, अच्छे लाल, गुड्डू, चंद्रलाल, राजन, निरहू आदि उपस्थित रहे।
सेक्रेटरीपर अभद्रताका आरोप
आजमगढ़। पूर्व विधानसभा फूलपुर प्रत्याशी रीता मौर्य ने एक व्यक्ति पर दूरभाष पर अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए मुख्य विकास अधिकारी से न्याय की गुहार लगायी है। अहरौला थाना क्षेत्र के पारा गांव निवासिनी रीता मौर्य का कहना है कि वह क्षेत्र में गरीब व असहाय, अशिक्षित लोगों के लिए ब्लाक, थाना, तहसील व जनपद मुख्यालय पर जाकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री योजनाओं का लाभ दिलाने का काम करती है। उसका आरोप है कि छ: अगस्त को आवास शौचालय की बात सेक्रेटरी से फोन के माध्यम से की तो सेक्रेटरी ने अभद्र शब्दों का प्रयोग किया। ग्राम प्रधान, सेक्रेटर आपस में सांठ-गांठ करके आवास की सूची में अपात्र लोगों का नाम डालकर मनमाने ढंग से धन उगाही कर रहे हैं। जिन लोगों को आवास मिल चुका है उन्हें दोबारा आवास दिया जा रहा है। रीता मौर्य ने उक्त प्रकरण की जांच सक्षम अधिकारी से कराने की मांग की है।देवारामें मची तबाही, पलायित हुए हजारों लोग
बाढ़ से निपटने के लिए महीनों पहले शासन ने कसी थी कमर, नतीजा शिफर
सगड़ी, आजमगढ़। तहसील क्षेत्र में घाघरा नदी लगातार बढ़ती जा रही है। लोगों को आने-जाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। जबकि शासन ने महीनों पहले बाढ़ से निपटने के लिए पूरी तरह कटिबद्घ नजर आ रही थी। नतीजा यह निकला कि सैकड़ों लोग अपने घरों को छोड़ कर दूसरे जगह के लिए पलायित हो रहे हैं। उसके बावजूद भी शासन इन लोगों को कोई राहत सामग्री उपलब्ध नहीं करा रहा है। यहां तक कि उनको आने-जाने के लिए रास्ता भी नहीं दिख रहा है। आलम यह है कि कई दिनो से नदी का पानी लगातार बढऩे से देवारा अंचल के लोगो में जहां दहशत फैली थी लेकिन आज अचानक नदी धीरे धीरेधीरे उफान पर होते जा रही है। लेकिन वही पर 100 पूरवे के 25000 हजार आबादी बाढ़ के पानी से चारों तरफ से घिरी है। देवारा खास राजा गांव के 42 पुरवे और बांका, बुढऩ पट्टी, चक्की, पूर्ण रुप से घिर चुकी है। शाहडीह, सोनौरा, अभनपट्टी  के कुछ पूर्वे बाढ़ के पानी से वर्तमान मे घिरे गए हैं। कुल बाढ़ के पानी से  अब तक 100 पूरवे के 25000 हजार आबादी हैं जनके चारों तरफ से पानी लगा हुआ है। तहसीलदार सगड़ी ने बताया छ नाव चल रही है। चार.नाव चक्की में मानिकपुर और सोनौरा में एक, एक नाव चलाई  जा रही है। लगभग 25 हजार की आबादी प्रभावित है। सभी ग्रामीणों को स्कूल, बाजार, मुख्यालय ब्लाक तहसील जाने की सख्त जरूरत है। वह एक अंदाजे पर अपना रास्ता मानकर अपनी जान जोखिम में डालते हुए वाहनों को लेकर घाघरा पार करते हैं। परंतु अभी तक उनको नाव की व्यवस्था नहीं की गई। चक्की गांव में बाढ़ के पानी से घिरे होने से ग्रामीणों में बीमारी फैलनी शुरू  हो गयी जिससे दो दर्जन लोग बीमार  हो गये। एक ही परिवार के 5 सदस्य बुखार उल्टी दस्त से प्रभावित हैं ।चक्की गांव में उमेश चंद्र यादव 60 वर्ष ,संध्या 26 वर्ष, अंजलि चार वर्ष, अनुष्का 6 वर्ष ,बिट्टू डेढ़ वर्ष ,बुखार उल्टी दस्त से पूरा परिवार प्रभावित है। वही गांव में कई ऐसे परिवार हैं जिनके घर में बच्चे और बूढ़े बीमार हैं। अभी तक गांव में स्वास्थ्य टीम नहीं पहुंची। लोग मजबूर होकर प्रदूषित पानी का प्रयोग कर रहे हैं। जिससे बीमारी फैल रही है ।बाढ़ चौकी हाजीपुर पर अभी तक स्वास्थ्य टीम नहीं पहुंची और ना ही वहां के लोगों को दवा मिल रही है। दवा के अभाव में लोगों को परेशानियां उठानी पड़ रही हैं। किसी तरह नाव से बंधे पर आकर आजमगढ़ जीयनपुर रौनापार लाटघाट  दोहरीघाट बड़हलगंज दवा लेने जा रहे हैं। उमेश यादव ने कहा कि 4 दिन से परिवार के सभी लोग बीमार हैं। बाढ़ चौकी पर डॉक्टर नहीं हैं। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हाजीपुर पर दवा नहीं है। बाढ़ के पानी से घिरे गांव में जानवरों सर्पो का खतरा बढ़ गया है। बाढ़ चौकियों पर दवा और एंबुलेंस  बहुत जरूरी है। जो अभी तक उपलब्ध नहीं है। यहां तक कि बाढ़ चौकी हाजीपुर पर स्वास्थ्य टीम ही नहीं पहुंची है जबकि सबसे पहले चक्की हाजीपुर व देवारा खास राजा सबसे ज्यादा प्रभावित होता है। स्कूली बच्चे कमर भर पानी से होकर जा रहे हैं किसी भी समय हो सकता है बड़ा हादसा।
विश्वविद्यालय के लिए आधी आबादी सड़क पर
जनपद की प्रबुद्ध महिलाएं विश्वविद्यालय के लिये कमर कस चुकी हैं। राज्य आवासीय विश्वविद्यालय की मांग को लेकर महिलाओं ने मार्च निकाला और मा0मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी को सौंपा। जुलूस का नेतृत्व कर रही जनपद की प्रमुख समाजसेवी हिना देसाई ने कहा कि जनपद से प्रतिभा पलायन रोकने और ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं को निखारने के लिये विश्वविद्यालय आजमगढ़ की सबसे बड़ी जरूरत है। घर घर की छात्र छात्राएं विश्वविद्यालय न होने से काफी परेशान होते हैं। हम सबको एकजुट होना पड़ेगा। विश्वविद्यालय अभियान की जिला संयोजक अनिता द्विवेदी ने कहा कि विश्वविद्यालय की मांग को लेकर जनपद की प्रबुद्ध महिलाएं तेजी से एकजुट हो रही हैं। जिला संचालक पूनम सिंह ने कहा कि अब महिलाएं घर से निकल चुकी हैं तो विश्वविद्यालय लेकर ही रहेंगी। नगर संयोजक डा0वंदना द्विवेदी ने कहा कि पिछले 40 वर्षों से जनपद विश्वविद्यालय के लिये तरस रहा है किन्तु अब निर्णायक संघर्ष का समय आ चुका है।
जुलूस में डा0संचिता बनर्जी,अनामिका पालीवाला, डा0 सुस्मिता बनर्जी, डा0अलका सिंह,डा0इन्दू श्रीवास्तव, प्रिया उपाध्याय, चंदा तिवारी, सुमन सिंह, चित्रलेखा रेखा सिंह, सरिता शाही, गुरमीत कौर सलूजा, अर्चना बरनवाल, निरुपमा पाठक,अलका श्रीवास्तव, बिजेंद्र सिंह, राकेश गांधी, डा0 प्रवेश कुमार सिंह, बालमुकुंद सिंह, हरिशंकर सिंह, शिवबोधन उपाध्याय, डा0 सुजीत भूषण आदि सम्मिलित रहे।
डीएम से लगायी गुहार
आजमगढ़। दुनियां में हुनरमंदो की कमी नहीं है, बस जरूरत है तो उन्हें समझने और प्रोत्साहित करने की। इन्हीं हुनरमंदों में एक है तहसील लालगंज के ब्लाक तरवां स्थित ग्रामसभा सिहुका अबीरपुर फिनीहिनी सलेमपुर निवासी जीत कुमार पुत्र मि_ू। इन्होंने जीरो वोल्ट का सोल्डिंग आयरन, सौ से 120 वाट का जनरल इलेक्ट्रिक आयरन तथा दुनियां का सबसे छोटा प्रेस 40-50 वोल्ट का आविष्कार किया है। जीत कुमार ने सोमवार को जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर उनके समक्ष उक्त आविष्कारों का परीक्षण करने की गुहार लगायी है। देखना यह है कि इस आविष्कारक को शासन प्रशासन से कितना प्रोत्साहन मिलता है।
मारपीट में चौदह नामजद
आजमगढ़। अलग अलग थाना क्षेत्र के मामूली विवाद को लेकर हुई मारपीट के मामले में सम्बन्धित थाना पुलिस चौदह लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज छानबीन कर रही है। एक घटना निजामाबाद थाना क्षेत्र के बड़हरिया गांव में घटी। इसकी रिपोर्ट इसी गांव का रहने वाला गोवर्धन यादव पुत्र शंवर यादव ने दर्ज कराया है। उसका आरोप है कि इसी थाना क्षेत्र के परसहां गांव का रहने वाले नसीर पुत्र हकीमुद्दीन सहित आठ लोगों ने ट्रक के पहिये से पानी छिटक जाने की बात को लेकर गाली गुप्ता देते हुए ईंट पत्थल चलाकर मारापीटा जिससे ट्रक का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया। दुसरी घटना बरदह थाना क्षेत्र के नरवे गांव में घटी। इसकी रिपोर्ट इसी गांव का रहने वाला ओमप्रकाश सिंह प्रधानाध्यापक ने दर्ज कराया है। उसका आरोप है कि उक्त गांव का रहने वाला सुधा सिंह पत्नी संतोष सिंह सहित आधा दर्जन लोग गाली गुप्ता देते हुए मारापीटा और सरकार कार्य में बाधा डाला।
युवती का अपहरण
आजमगढ़। कन्धरापुर थाना क्षेत्र के हरखूपुर गांव से एक युवती का अपहरण हो गया। इस घटना की रिपोर्ट एसी गांव की रहने वाली विद्या देवी पत्नी अर्जुन ने दर्ज करायी है। उसने अपने गांव के ही रहने वाले रिता देवी पत्नी अशोक, अशोक पुत्र रघुवीर ने पुत्री रिंकू का अपहरण कर लिया। इस मामले में मुकामी पुलिस मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही है।
तीन चेन स्नेचर महिलाएं गिरफ्तार
सगड़ी, आजमगढ़। रौनापार पुलिस को मेले में चेकिंग के दौरान मिली तीन संदिग्ध  महिलाओं को चैन छिनैती करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक रविशंकर छवि आजमगढ़ के निर्देश पर रौनापार पुलिस ने वांछित अभियुक्त वह भीड़ भाड़ वह मंदिर शिवालों की चेकिंग हेतु चलाए जा रहे अभियान के तहत रौनापार थाना प्रभारी गिरजेश सिंह मैय हमराहियों सहित सोमवार को ब्रह्मबाबा मन्दिर सुन्दरपुर मेले में शांति व्यवस्था के तहत ड्यूटी पर मौजूद थे। कुछ व्यक्तियों ने सूचना दिया कि कुछ महिलाएं आने वाले दर्शनार्थियों की चैन चोरी कर रही हैं। तत्काल मामले को संज्ञान में लेते हुए मौके पर थाना प्रभारी रौनापार गिरजेश सिंह पहुंचे तो तीन महिलाओं को मेले मे पकड़ कर रखा है जिसको मेले मे आए दर्शनार्थियों ने पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस गिरफ्तार कर थाने लायी और तलाशी के दौरान उनके कब्जे से एक आदत चोरी की पीले धातु की चैन बरामद कर कानूनी कार्रवाई करते हुए तीनो महिलाओं को जेल भेजा। गिरफ्तार की गई महिला माधुरी देवी पत्नी राकेश शीला देवी पत्नी गब्बर फूलमती देवी पत्नी प्रभुराम ग्राम सलारपुर थाना बरहलगंज जनपद गोरखपुर की बताई गई हैं।
विद्युत व्यवस्था बेपटरी
रानी की सराय, आजमगढ़। स्थानीय कस्बा सहित आस क्षेत्र में इन दिनो विजली ब्यवस्था बेपटरी हो गयी है। पांच दिनो से कस्बावासी बिलबिला रहे है। विभाग आये दिन प्राइवेट कर्मियो के भरोसे फाल्ट ठीक करने में लगा हुआ है। बिजली दुब्र्यस्था से नागरिको में रोष है।  कस्बें में अकेले पाच दिनो से विजली आपूर्ति बेपटरी है। दिन में कटौती तो रात में फाल्ट। हालात यह है कि नागरिको को न दिन में चैन है न रात में सकून। दुब्र्यवस्था का आलम यह है कि कागज में भले ही लाइनमैन तैनात है परन्तु विजली ब्यस्था प्राइवेट कर्मियो के भरोसे चलती है। बगैर चढावे के यहां कुछ नही होता। कस्बें में निजामाबाद मोढ के पास लगी केबल जो लगने के दौरान से ही जर्जर है आये दिन जलती है। इसे ठीक करने में दो दिन लग गये। किसी तरह ठीक हुई तो रात में 33 हजार बोल्टेल आपूर्ति ठप हो गयी और पूरा दिन महकमा ठीक करने में लगा रहा। ये क्रम आये दिन के है। उपकेन्द्र पर आये दिन जेई नदारत रहते है। केवल प्राइवेटकर्मी ही नजर आते है। विजली दुब्यर्वस्था से त्रस्त नागरिको का कहना है कि इतनी बद्तर विजली आपूर्ति की दशा पहले नही थी। क्षेत्र के अरविंद, अजय, राकेश आदि ने जिला प्रशासन से आपूर्ति ठीक कराये जाने की मांग की है।
पशु चोरों के आतंक से ग्रामीण परेशान
आजमगढ़। रविवार को जनपद के विभिन्न थानों में दर्ज पशु चोरी के तीन मामलों को देखकर मिलता है। सिधारी थाना क्षेत्र के चंडेश्वर बाजार निवासी कन्हैया पुत्र हरिहर यादव के दरवाजे पर बड़ी भैंस रविवार की देर रात पिकअप वाहन से आए पशुचोर वाहन पर लादकर भागने लगे। आहट पाकर पशु मालिक ने जब शोर मचाते हुए पशु चोरों को ललकारा तो पिकअप वाहन पर सवार पशु चोरों ने पशु मालिक पर पथराव शुरु कर दिया। पथराव के चलते बेबस पशु मालिक वाहन पर लदे मवेशी को चोरी जाते देखने को मजबूर हो गया। पीडि़त कन्हैया यादव ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ सिधारी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।
शिवालयोंमें तीसरे सोमवारको गूंजा हर-हर महादेव का नारा
आजमगढ़। श्रावण मास के तीसरे सोमवार को 'बोल बम, बोल बमÓ के उदघोष से नगर ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्र भी गूंजायमान नजर आये। हर तरफ बस केसरिया वस्त्र धारण किये कावरियें शिवालयों की ओर रूख करते देखे गये। कही ढोल-नगाड़े तो कही शिव भक्ति गीतो से पूरा वातावरण लग रहा था कि शिवमय हो गया हो। कही पर शिव भक्तो ने जल चढ़ाये तो कही दूध, दही, घी धूप, अगरबत्ती, बेलपत्र, माला से अपने अराध्य देव शिव को लोग प्रसन्न करने में लगे रहे। खासकर महिलओ व किशोरियों की शिव मंदिरो में खासी भीड़ देखी गयी। श्रावन के सोमवार को शिव मंदिरो पर लगने वाले श्रद्धालुओं व भक्तों की भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम पहले ही कर रखे थे। नगर के भंवरनाथ स्थित शिव मंदिर पर तो भोर से ही शिवभक्तों का रेला उमडऩा शुरू हो गया था। जलाभिषेक करने के शिवभक्तों की यहां लम्बी कतार घण्टो लगी रही। यहां नगर क्षेत्र के कई कावरियां संघो ने तमसा नदी से जल लेकर शहर के विभिन्न मार्गो रोडवेज, सिविल लाइन, कोतवाली, मातवंरगंज, लालडिग्गी, पूरानी सब्जी मण्डी, कटरा, पाण्डेय बाजार, ब्रहम्स्थान होते हुए भंवरनाथ भोले बाबा के दरबार में हाजिरी लगाने पहुंचे। इस दौरान बीच रास्ते में जहां भी शिव मंदिर पड़ा कावरियें वहां पर धूप बत्ती जलाकर पूजा अर्चना किये। महिलाएं भी शिव की अराधना करने में पीछे नहीं रही, सुबह स्नान-ध्यान करके वे नंगे पाव शिव मंदिरों पर बेलपत्र, पुष्प, माला, अगरबत्ती, कपूर लेकर शिव लिंग पर चढ़ायी और अपने सुखमय जीवन के साथ ही परिवार के सुख समृद्धि की कामना की। नगर के गौरीशंकरघाट पूरानी कोतवाली पार्क स्थित शिव मंदिर, सिधारी स्थित शिव मंदिर, मारवरगंज स्थित शंकर तिराहा, भंवरनाथ स्थित शिव मंदिर सहित ग्रामीण क्षेत्रो के भी शिवालयों में महिलाओं की संख्या अधिक देखी गयी। यहां एक मिनट में हो जाता है।
 इसी क्रम में अतरौलिया क्षेत्र के पौराणिक स्थल कालेश्वर धाम कैली पर सावनी सोमवार को सैकड़ों की संख्या मंर कांवरियों ने झारखंडी महादेव का दूध व गंगा से जलाभिषेक किया। अतरौलिया के कालेश्वर धाम कैली पहुंच कर भगवान शिव को जल चढ़ाते व मन्नतें मांगते नजर आये। कैली स्थान पर श्रद्धालुओं द्वारा कांवरियों को दवा, नास्ते व भोजन की व्यवस्था की गयी थी। अतरौलिया के महेंद्र यादव ने कैली स्थान पर विशाल भंडारे का आयोजन किया जिसमें हजारों भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया।  बताते हैं कि कैली स्थान पर जो शिवलिंग विराजमान है। वह स्वयं धरती के अंदर से प्रकट हुआ है। इस स्थान की महत्ता इतनी है कि यहां सच झूठ का फैसला चंद मिनटों में हो जाता है। सुबह से शाम तक चलने वाले लंगर में आसपास हजारों की संख्या में भोजन करते है।
जालंधर विवाह कथा सुन भाव विभोर हुए श्रोता
आजमगढ़। श्री गौरी शंकर मंदिर सिधारी के प्रांगण में चल रहे श्री शिव महापुराण कथा के 17वें दिन कथा वाचक अजय भारद्वाज ने भगवान शिव के क्रोधागिनी से जालंधर राक्षश के जन्म और वृंदा देवी से जांलधर के विवाह का वर्णन किया। उपस्थित श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए कथा अजय भारद्वाज ने कहाकि देवगुरू बृहस्पति और इन्द्र शिवशंकर के दर्शन के लिए कैलाश पर्वत पर गये। भगवान शंकर इनकी परीक्षा लेने के लिए रास्ते में जोगी का रूप धारण कर धुन रमाने लगे। इन्द्र ने भगवान शंकर से पूछा की तुम कौन हो? भगवान शिव के चुप रहने पर इन्द्र को क्रोध आ गया। उन्होने क्रोध में ही भगवान शिव को मारने के लिए वज्र का प्रयोग किया। इन्द्र का यह क्रोध देख भगवान शिव भी क्रोधित हो गये। तो देव गुरू बृहस्पति क्षमा याचना की और अभय वरदान दिलाया। भगवान शिव ने तीसरे नेत्र की क्रोधागिनी को गंगा सागर क्षार समुन्द्र में डाला। वहां उस  क्रोधागिनी ने बालक का रूप धारण किया और वह बालक जोर जोर से रोने लगा। उसके रोने से पूरा संसार बहरा हो गया। सभी देवता परेशान होकर ब्रह्मा जी के पास गये। रोती आवाज के सहारे ब्रह्मा जी आर्य समुद्र में गये। जहां वह बालक समुद्र में ब्रह्मा जी को शीश नवाया। ब्रह्मा जी ने बालक को गोद में ले लिया। इसी दौरान बालक ने ब्रह्मा जी का गला पक?ा। जहां ब्रह्मा जी के आंशू निकले। ब्रह्मा जी ने उस बालक का नाम जालंधर रखा। शुक्राचार्य को बुलाकर इस बालक का राज्याभिषेक किया और समुद्र ने इस बालक पालन पोषण किया। कालनेमि नामक असुर की पुत्री वृंदा से जालंधर का विवाह हुआ। शुक्राचार्य ने जालंधर को समुद्र मंथन की कथा सुनाया। अंत में भगवान शिव शंकर के द्वारा जालंधर राक्षस का उद्धार हुआ। वृंदादेवी ने नरायण को श्राप दिया और अपने आप योगग्नि में भष्म हो गये।
शबाना ने उठाया कजरी का लुत्फ
फूलपुर, आजमगढ़। अपने पैतृक गांव मेजवा में फल फूल रहे अगरबत्ती उद्योग से जुड़ी महिलाओं के बीच रविवार देर शाम पहुंची प्रख्यात अदाकारा व पूर्व राज्य सभा सदस्य शबाना आजमी ने अगरबत्ती बनाने की कारीगरी देखीं व सावन के मौसम में रिम झिम फुहारों के बीच महिलाओं संग पारम्परिक कजरी गीत भी गाया। इस बीच अपनों के बीच शबाना आजमी ने खूब हंसी ठिठोली भी की। उक्त अगरबत्ती उद्योग गांव के ही राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित समाज सेवी घनश्याम प्रजापति ने शुरू किया था जिसके सहयोग में बहुत से लोग आगे आएं। शबाना आजमी ने भी इस उद्योग को ऊंचाई प्रदान करने के लिए फरवरी माह में दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एक अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी में गांव के अगरबत्ती की प्रदर्शनी लगवाई थी व महिलाओं को स्वयं सहायता समूह से भी जोड़ा था।
वृद्घ लापता
रानी की सराय, आजमगढ़। स्थानीय थाना क्षेत्र के टेकमलपुर निवासी बृद्व घर से बाजार के लिए निकला और लापता हो गया। परिजनो ने खोजबीन के बाद पुलिस को गुमशुदगी की तहरीर दी है। गांाव निवासी लोरिक सोनकर (60वर्षीय) घर से बाजार के लिए निकला था। वापस घर नही लौटा। परिजनो ने खोजबीन के बाद सूचना पुलिस को दी है।
रानी का पोखरा बना नशेडिय़ों का अड्डïा
रानी की सराय, आजमगढ़। स्थानीय कस्बे के रानी पोखरे पर अराजकतत्वो द्वारा प्रतिमा खण्डित करने वाले एक सप्ताह बाद भी पुलिस की पकड़ से जहां दूर है वहीं पोखरे के आस पास नशेडिय़ो पर रोक लगाने में पुलिस नाकाम है। हाल ही में अराजकतत्वो ने पोखरे पर प्रतिमा को खण्डित कर दिया था। दूसरे दिन पुलिस ने अराजकतत्वो पर कार्यवाही का आश्वासन दिया था परन्तु एक सप्ताह बाद भी पुलिस शिथिल पड़ी है। पोखरे के अलावा आस पास हेरोईन, गंाजा और शराब के नशे में धुत नशेड़ी आये दिन उपद्रव के साथ उचक्कागिरी करते है और पुलिस सब कुछ देखते हुए खामोश रहती है। नागरिको ने पुलिस कप्तान से कार्यवाही की मांग की है।
भंडारे में श्रद्घालुओं ने ग्रहण किया प्रसाद
रानी की सराय, आजमगढ़। स्थानीय क्षेत्र के अवंतिकापुरी धाम पर सावन मास के सोमवार को कावरियो के लिए बृहद भण्डारा में प्रसाद ग्रहण कराया गया। मंदिर में दर्शन पूजन के लिए लोगो की भीड़ लगी रही। सोमवार को प्रात: जल सरोवर में लोगो ने डुबकी लगाई और मंदिर में पूजन अर्चन किया। मंदिर प्रांगण में अवंतिका सेवा समिति द्वारा इस बार भी दूरदराज के साथ स्थानीय कवारियो के लिए बृहद भण्डारा चलाया गया जिसमें काफी संख्या में कावरियो ने प्रसाद ग्रहण किया। इस मौके पर मुखराम गुप्ता, अरूण, राधे श्याम, जवाहिर, जियालाल आदि उपस्थित रहें।
खाद्यान्न व वितरण रजिस्टर लूटने का आरोप
अम्बारी, आजमगढ़। अहरौला थाना क्षेत्र के अतरडीहा ग्राम सभा के कोटेदार शेषनाथ पाण्डेय ने यहां के प्रधान और उनके  दर्जनों समर्थको के ऊपर खाद्यान्न सहित वितरण रजिस्टर जबरदस्ती उठा ले जाने का आरोप लगाय है। रविवार देर शाम मुकामी थाने मे इस बावत तहरीर देकर पुलिस से कार्यवाही करने की मांग की है।  कोटेदार द्बारा पुलिस को दी गई तहरीर में कहा गया कि ११ अगस्त को वह अपने चकब्राह्मनी स्थित आवास पर पात्र गृहस्थी और अंत्योदय कार्ड धारकों को राशन वितरित कर रहा था। करीब 2 बजे दिन मे यहां के प्रधान दिनेश राजभर अपने 20 समर्थको के साथ आये और गाली देने लगे तथा दस कुंतल से अधिक राशन और वितरण रजिस्टर लूट लिये। इस सम्बन्ध मे कोटेदार ने प्रधान और उनके 20 समर्थको को भी इसमे आरोपित किया है। इस सम्बन्ध में माहुल चौकी प्रभारी राजेश यादव ने कहा कि तहरीर मिली है जांच हो रही जल्द ही दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा।
छेडख़ानी में दो पाबन्द
आजमगढ़। जीयनपुर थाना कोतवाली पुलिस किशोरी के साथ हुई छेडख़ानी के मामले में दो लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही है। इसकी रिपोर्ट इसी थाना क्षेत्र के समता नगर गांव की रहने वाली एक महिला ने दर्ज करायी है। उसका आरोप है कि इसी थाना कोतवाली क्षेत्र के चांदपुर गांव का रहने वाला आमीर पुत्र अब्बास, अरमान पुत्र लाल मुहम्मद पुत्री के साथ छेडख़ानी कर रहा था मना करने पर गाली गुप्ता देते हुए जान से मारने की धमकी दिया।
समस्या का तत्काल होता है समाधान
मेंहनगर, आजमगढ़। स्थानीय थाना पर तैनात इंस्पेक्टर प्रेम कुमार यादव के कार्यों की क्षेत्र में लोग इस समय काफी सराहना कर रहे हैं। आलम यह है कि पूर्व इंस्पेक्टर चन्द्रभास्कर द्विवेदी के चलें जाने के बाद उनकी तैनाती के बाद वह किसी भी विवाद का तत्काल हल करा देते हैं। एस लिए उनके कार्यों की लोग जोर शोर से सराहना करते नजर आ रहे हैं। एैसे में लोगों का कहना है कि अब क्षेत्र में कोई घटना नहीं हो रही है।
छ: बजे निकलेगी प्रभातफेरी
आजमगढ़। 15 अगस्त 2018 स्वतंत्रता दिवस समारोह को उत्साहपूर्वक मनाने के लिए जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी द्वारा बैठक कर निम्न प्रकार से स्वतंत्रता दिवस मनाने के निर्देश दिये गये हैं। 15 अगस्त को प्रात: 6 बजे स्कूली बच्चों द्वारा प्रभात फेरी निकाली जायेगी। प्रभात फेरी राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज से डीएवी कॉलेज होते हुए पुन: राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज पर समाप्त होगी। इसके लिए नोडल अधिकारी डीआईओएस तथा बीएसए होंगे। अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह ने बताया है कि 15 अगस्त को प्रात: 8बजे सरकारी एवं गैर सरकारी भवनों पर ध्वजारोहण किया जायेगा। 15 अगस्त को प्रात: 6 बजे आजमगढ़ स्टेडियम में क्रासकन्ट्री दौड़ का आयोजन किया जायेगा।