Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नवीनतम समाचार » गाजीपुर समाचार

गाजीपुर समाचार

नन्दगंज (गाजीपुर)। स्थानीय थाना क्षेत्र के सिरगिथा-सौरी मोड़ पर मंगलवार की दोपहर १२.३० बजे के करीब बालू लदी ट्रक से कुचलकर एक बाइक सवार की मौत हो गयी। मृतक की पहचान शादियाबाद थाना क्षेत्र के पडऱी गांव निवासी बजरंगी चौहान ३२ वर्ष पुत्र कन्हैया चौहान के रूप में हुई। घटना के बाद चालक ट्रक छोड्कर फरार हो गया। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तथा शव को कब्जे में लिया तथा ट्रक को लाकर थाना पर खड़ा कर दिया। पुलिस ने पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेंज दिया। जानकारी के अनुसार मृतक सौरी स्थित एक गैस एजेंसी कार्यालय से गैस कनेक्शन लेकर घर जा रहा था, जैसे ही सौरी मोड़ पर पहुंचे नन्दगंज की तरफ से आ रही बालू लदी ट्रक से पीछे से धक्का लगने से गिर पड़ा, तभी ट्रक का चक्का उसके उपर चढ़ गया जिससे मौके  पर ही मौत हो गयी। मृतक इकलौता संतान था तथा खेती करके परिवार का पालन पोषण करता था। घटना की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया, परिजन रोते बिलखते थाना पर पहुंचे जहां पत्नी माला देवी सहित परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल था, मृतक को तीन संतान पुत्र कल्लू ६ वर्ष, मनीष ४ वर्ष, पुत्री सिमरिन एक वर्ष है।

परीक्षा निरस्त होनेपर भड़के प्रशिक्षु बीटीसी

गाजीपुर। बीटीसी/डीएलएड के चौथे सेमेस्टर की परीक्षा निरस्त होने पर मंगलवार को प्रशिक्षु बीटीसी भड़क गये और सरजू पाण्डेय पार्क में धरना प्रदर्शन किया। उप जिलाधिकारी सदर शिवशरणप्पा ने मौके पर पहुंचकर पत्रक लिया। उल्लेखीय है कि बीटीसी/डीएलएड चौथे सेमेस्टर की परीक्षा सोमवार से शुरू हुई। कौशाम्बी जनपद में परीक्षा से पहले ही प्रश्र पत्र आउट हो गया, जिस पर शासन ने परीक्षा निरस्त करने का फैसला लिया। दूसरे दिन की परीक्षा निरस्त होने की जानकारी होते ही प्रशिक्षु बीटीसी में आक्रोश फैल गया और वे सड़क पर उतर आये। जनपद में कुल १४ परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं जिसमें ५६०० बीटीसी प्रशिक्षु पंजीकृत हैं। बीटीसी प्रशिक्षुओं का कहना था कि कौशाम्बी में प्रश्र पत्र आउट हुआ, इसका खामियाजा अन्य जनपद के प्रशिक्षुओं को भुगतना पड़ रहा है। इस समय में डायट प्राचार्य ने बताया कि परीक्षा निरस्त करने का फैसला शासन का है, निरस्त परीक्षा की तिथि शासन तय करेगा। धरना प्रदर्शन में राकेश कुमार, शिवेन्द्र प्रताप सिंह, बृजेश कुमार, सोनू यादव, प्रशांत यादव, आनंद सिंह, कपिल यादव आदि उपस्थित रहे।
 
दो घंटे खड़ी रही सारनाथ एक्सपे्रस
करीमुद्दीनपुर (गाजीपुर)। पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी-छपरा रेल खण्ड के ताजपुर डेहमा स्टेशन पर इंजन फेल होने से सारनाथ एक्सपे्रस दो घंटा खड़ी रही। इससे यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। छपरा से चलकर दुर्ग तक जाने वाली सारनाथ एक्सपे्रस ताजपुर डेहमा स्टेशन पर प्रात: ९.३८ पर पहुंची तथा इंजन में खराबी आ गयी। चालक द्वारा सूचना दिये जाने के बाद दूसरा इंजन आने के बाद ट्रेन करीबन ११.२० बजे रवाना हुई। स्टेशन मास्टर डीपी गुप्ता ने बताया कि इंजन में खराबी के कारण ट्रेन रूकी रही, चालक द्वारा ठीक करने का प्रयास किया किन्तु खराबी दूर न होने पर कंट्रोल को सूचना दिया गया। दूसरा इंजन आने के बाद ट्रेन गन्तव्य के लिए रवाना हुई।
पर्वपर होगी बिजली, पानी की मुकम्मल व्यवस्था

बहादुरगंज (गाजीपुर)। दुर्गा पूजा, दशहरा पर्व को देखते हुए यहां हुई शांति समिति की बैठक में पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह ने आपसी भाईचारा के साथ शांतिपूर्ण ढंग से पर्व मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह कस्बा हमेशा से शांतिप्रिय रहा है, यहां के लोगों ने आपसी पे्रम भाईचारा हमेशा से बना रहा है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी ने कहा कि त्योहार पर साफ-सफाई, बिजली, पानी की मुकम्मल व्यवस्था की जायेगी। यदि किसी प्रकार की कोई समस्या है तो अवगत करायें, समस्याओं का निराकरण किया जायेगा। बैठक में दुर्गा पूजा समितियों द्वारा लटकते बिजली तार, सड़क की समस्या की तरफ ध्यान आकृष्टï कराया गया। जिस पर बिजली विभाग को लटकते तार को ठीक करने का निर्देश दिया गया। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी कासिमाबाद मंचा राम वर्मा, क्षेत्राधिकारी कासिमाबाद, एसओ कासिमाबाद, पूर्व नपा चेयरमैन रियाज अंसारी, अब्दुल्लाह, राईनी, मुस्ताक अंसारी, नूरूल हसन, रईस अहमद, कालीचरण, अरविन्द प्रजापति, अर्जुन मद्घेशिया, दिलीप प्रजपति, धनंजय कुमार सहित काफी संख्या में नगर के गणमान्यजन उपस्थित रहे। पुलिस चौकी प्रभारी उमेशचंद्र शर्मा ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।


ट्रांसफार्मर न बदलने
से सूख रही फसल
मतसा (गाजीपुर)। क्षेत्र के देवा बैरनपुर गांव के पश्चिम तरफ सीवान में लगा २५ केवीए का ट्रांसफार्मर तीन सप्ताह से जला हुआ है। ट्रांसफार्मर जलने की विभागीय अधिकारियों को जानकारी दिये जाने के बाद भी आज तक ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया।
जिससे बिजली नहीं आने से सिंचाई के अभाव में सैकड़ों बीघा खेत में लगी फसल पानी न मिलने से सूख रही है। इसको लेकर किसान परेशान है, किसानों की खेत में खड़ी धान की फसल के साथ ही बोई गयी टमाटर, मिर्च की फसल पानी के अभाव में सूख रही है। किसान अखिलेश राय ने बताया कि ट्रांसफार्मर जलने की सूचना पिछले माह १८ सितम्बर को विभागीय अधिकारियों को दी गयी, लेकिन जला ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया।
इधर कई दिनों से विभागीय अधिकारियों से सम्पर्क का प्रयास किया गया किन्तु फोन रिसिव नहीं हो रहा है। किसानों ने इस तरफ जिलाधिकारी एवं विभाग के उच्चाधिकारियों का ध्यान आकृष्टï कराते हुए जला ट्रांसफर्मर शीघ्र बदलने की मांग की है।


ढाई सप्ताह बाद भी नहीं बदला जला ट्रांसफार्मर
करीमुद्दीनपुर (गाजीपुर)। रेलवे स्टेशन करीमुद्दीनपुर को विद्युत आपूर्ति करने वाला २५ केवीए का ट्रांसफार्मर जले हुए ढाई सप्ताह बीत गया, किन्तु आज तक जला ट्रांसफार्मर बदला नहीं गया। इसके चलते सायं होते ही स्टेशन परिसर में अंधेरे का सामा्रज्य हो जाता है। रात में ट्रेन से उतरने वाले यात्रियों के साथ ही रात में ट्रेन पकडऩे आने वाले यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है। बिजली न रहने से रेलवे कर्मचारियों को भी कार्य करने में कठिनाई हो रही है। इस तरफ बिजली विभाग व रेलवे विभाग का ध्यान आकृष्टï कराये जाने के बावजूद भी आज तक जला ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया।

विद्युत आपूर्तिको लेकर एक्सईएन
से मिला प्रतिनिधि मंडल

देवकली (गाजीपुर)। विद्युत उपकेन्द्र पहाड़पुर से विद्युत आपूर्ति की दयनीय हालत को लेकर भाजपा का एक प्रतिनिधि मंडल मंगलवार को अधिशासी अभियंता एके चौहान से मिलकर विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से करने की मांग की। उपकेन्द्र पहाड़पुर से देवकली सहित दर्जनों गांवों को विद्युत आपूर्ति की जाती है। पिछले एक सप्ताह से विद्युत आपूर्ति की स्थिति काफी खराब चल रही है, मात्र दो से तीन घंटा बिजली आ रही है। बिजली न मिलने से इनवर्टर भी चार्ज न होने से काम नहीं कर रहा है। वहीं बिजली के अभाव में नलकूप न चलने से खेतों की सिंचाई भी नहीं हो पा  रही है, जिससे फसल पानी के अभाव में सूख रही है। ज्ञातव्य हो कि पहाड़पुर उपकेन्द्र से विद्युत उपकेन्द्र नागाबाबा सइता पट्टïी को भी जोड़कर दोनों उपकेन्द्रों को आपूर्ति की जा रही है जिससे लोड बढऩे से आयेदिन फाल्ट होता रहता है, जिसका खामियाजा दोनों उपकेन्द्र के संबद्घ उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। प्रतिनिधि मंडल में प्रवीण त्रिपाठी, रविन्द्र प्रताप सिंह, जैनुल खां, टुन्ना राम, पिंटू यादव आदि शामिल रहे।

विद्युत पोल गिरने
से आपूर्ति ठप
बारा (गाजीपुर)। स्थानीय गांव बारा में अबुसालेह खां के डेरा के पास हाई टेंशन विद्युत पोल गिरने से विद्युत आपूर्ति छ: दिनों से ठप है। जिससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है। विद्युत पोल गिरने से कुतुबपुर गांव के साथ ही स्थानीय गांव के कई मुहल्लों की बिजली आपूर्ति ठप है। बिजली न आने से पेयजल आपूर्ति भी बाधित है। गांव कुतुबपुर के राहुल राय, ग्राम प्रधान सुनील राम भारती, दरोगा राम, श्याम नारायण, जयप्रकाश राय आदि ने बताया कि बिजली विभाग के एसडीओ से लेकर जिला के अधिकारियों को अवगत कराया गया, फिर भी समस्या जस की तस बनी हुई है। उन्होंने बताया कि इसको लेकर लोगों में काफी आक्रोश है, लोगों का आक्रोश कभी भी फूट सकता है।

क्षेत्रीय लोगों ने इस तरफ जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्टï कराते हुए गिरा हाईटेंशन खंभा ठीक कराकर विद्युत आपूर्ति बहाली की मांग की है।

तापस वेष विशेषि उदासी, चौदह बरिस राम बनवासी

गाजीपुर। जनकपुरी में स्वयंवर में श्रीराम द्वारा भगवान शिव का धनुष तोडऩे के बाद सीता ने श्रीराम को वरमाला पहनाया। इसके बाद महर्षि विश्वामित्र ने राजा जनक से कहा कि अयोध्या दूत भेंजकर राजा दशरथ को बारात लेकर आने का निमंत्रण भेंजे। गुरूदेव के आदेशानुसार राजा जनक ने दूत भेंजा, तब राजा दशरथ बारात लेकर जनकपुरी पहुंचे जहां श्रीराम-सीता का विवाह सम्पन्न हुआ। कुछ दिनों बाद राजा दशरथ ने गुरू वशिष्ठï को बुलाकर श्रीराम के राजतिलक की इच्छा जतायी। राजतिलक की तैयारी शुरू हो गयी, राजतिलक की तैयारी देख मंथरा महारानी कैेकेयी के पास पहुंची और महारानी से राजा दशरथ द्वारा पूर्व में दिये गये दो बरदान मांगने पहला भरत को राजतिलक और दूसरा श्रीराम को वनवास की बात कही। मंथरा की बात सुनने के बाद रानी कैकेयी कोप भवन में जाकर वस्त्र-आभूषण उतारकर जमीन पर लेट गयी। महारानी के कोपभवन में होने की जानकारी होते ही महाराज पहुंचे, तब कैकेयी ने महाराजा को अपने दिये गये दो वरदान की याद दिलाते हुए पूरा करने की बात कही। महारानी ने पहला वरदान भरत को अयोध्या का राज्य और दूसरा वरदान- तापस वेष विशेषि उदासी, चौदह बरिस राम बनवासी, राम को तपस्वी के वेष में १४ वर्ष का वनवास मांगा, इतना सुनते ही राजा दशरथ बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़े। सुमन्त द्वारा पिता के बेहोशी का पता चलने पर श्रीराम कोप भवन मां कैकेयी से पिता की बेहोशी का कारण पूछते हैं, महारानी द्वारा अपने वरदान मांगने की बात बताये जाने पर तपस्वी वेश में राम, लक्ष्मण, सीता के साथ केकेयी के कक्ष में जाकर माता, पिता व गुरू वशिष्ठï को प्रणाम कर वनवास पर निकल जाते हैं। अति प्राचीन रामलीला समिति की चल रही रामलीला में सीता-राम विवाह, राजतिलक की तैयारी, मंथरा-कैकेयी संवाद तथा कोप भवन की लीला का मंचन देख श्रद्घालु भावविभोर हुए।
आजकी रामलीला
गाजीपुर। अति प्राचीन रामलीला कमेटी हरिशंकरी की चल रही रामलीला में १० अक्टूबर को श्रीराम चबूतरा तथा पहाडख़ां पोखरा पर सायं ७ बजे से वन गबन, निषाद राज मिलन एवं तमसा निवास की लीला का मंचन होगा।    देवकली प्रतिनिधि के अनुसार-श्रीराम लीला समिति देवकली की श्रीराम मंच पर चल रही रामलीला में १० अक्टूबर को फुलवारी की लीला का मंचन होगा।



एस्पायर योजनाकी आवेदन तिथि १७ तक बढ़ी
गाजीपुर। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रधानाचार्य ने बताया है कि एस्पायर योजना स्कीम के अन्तर्गत विभिन्न व्यवसाय में प्रशिक्षण हेतु आवेदन की तिथि १७ अक्टूबर तक बढा दी गयी है।
उन्होंने बताया कि संस्थान में आयोजित इलेक्ट्रिकल डोमेस्टिक इन्क्लूड हाउस वायरिंग, कम्प्यूटर फंडामेन्टल, ब्यूटी कल्चर एवं गार्मेन्ट मेंिकंग हेतु प्रशिक्षण हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किया गया है। जिसकी तिथि बढ़ायी गयी है, शेष शर्ते पूर्ववत है।

शारदीय नवरात्र : शक्तिकी अधिष्ठïात्री मां दुर्गाका पूजन आजसे

गाजीपुर। शारदीय नवरात्र में शक्ति की अधिष्ठïात्री देवी मां दुर्गा के पूजन-अर्चन की तैयारियां पूरे जनपद में चल रही हैं। नवरात्र पर जनपद के सभी देवी मंदिरों की आकर्षक सजावट के साथ ही नगर एवं ग्रामीणांचलों में मां दुर्गा की मूर्ति स्थापना हेतु दुर्गा पंडाल निर्माण का काम भी अंतिम चरण में चल रहा है। शारदीय नवरात्र १० अक्टूबर से शुरू हो रहा है। नवरात्र की पूर्व संध्या पर मंगलवार को पूजन सामाग्री की खरीददारी हेतु पूजा सामाग्री की दुकानों पर लोगो की काफी भीड़ उमड़ी, जिससे पूरे दिन नगर में चहल पहल रही। नवरात्र में पूरे नौ दिन कलश स्थापित कर पूजन अर्चन करने वाले श्रद्घालुओं द्वारा नारियल, चुनरी, कलश के साथ ही पूजन सामाग्री एवं प्रसाद की खरीददारी की गयी। दुर्गा पूजा पर नगर में जगह-जगह नारियल,चुनरी की दुकानें सजी है।नन्दगंज प्रतिनिधि के अनुसार-शारदीय नवरात्र पर स्थानीय बाजार सहित ग्रामीण क्षेत्रों में नवरात्र के पहले दिन ही मां दुर्गा प्रतिमा स्थापना की तैयारियां पूरी कर ली गयी है। मां दुर्गा प्रतिमा स्थापना हेतु पंडाल बनकर तैयार हो गये हैं। दुर्गा पूजा समिति के संयोजकों ने बताया कि नवरात्र के प्रथम दिन दुर्गा प्रतिमाओं का भक्ति भाव से नगर भ्रमण के बाद दोपहर में पूरे विधि विधान से पंडाल में  प्रतिमा स्थापित की जायेगी। नन्दगंज बाजार में पांच जगह पर पूजा पंडाल के साथ ही बरहपुर, दवोपुर, नैसारा, कुसुम्हीकलां, सिरगिथा, कुसुम्हीखुर्द, रामपुर बंतरा, देवसिंहा आदि गांवों में दो दर्जन से अधिक प्रतिमा स्थापित की जायेगी। जखनिया प्रतिनिधि के अनुसार-शारदीय नवरात्र की पूर्व संध्या पर नवरात्र के पहले दिन बुधवार को मां दुर्गा के पूजन अर्चन हेतु पूजन सामाग्री की खरीददारी हेतु बाजार में काफी भीड़ उमड़ी। नवरात्र में पूजन अर्चन हेतु पूजा सामाग्री की दुकानों पर नारियल, चुनरी की खरीददारी के साथ ही कलश स्थापना हेतु कलश की भी खरीददारी की गयी। सिद्घपीठ हथियाराम मठ पर प्रतिवर्षो की भांति इस वर्ष भी शारदीय नवरात्र में पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर भवानी नंदन यति के सानिध्य में नवरात्र में पूरे नौ दिन का विविध अनुष्ठïान आयोजित है। पीठाधीश्वर की देखरेख में धार्मिक अनुष्ठïान की तैयारियां चल रही है। नवरात्र में साध्वी निष्ठïा का अध्यात्मिक प्रवचन १६ से १९ अक्टूबर तक आयोजित है।