Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


सौतेली मांकी चाकू मारकर हत्या

कोन(सोनभद्र)। स्थानीय थाना क्षेत्र के कचनरवा गांव में गुरूवार को  किशोर बेटे ने अपने सौतेली मां की चाकू मारकर निर्मम हत्या कर दिया। हत्या को अंजाम देने के बाद जब किशोर भागने लगा तो पास पड़ोस के लोगों ने हिम्मत दिखाते हुए उसे मय चाकू समेत दबोच लिया। पहली मां के रहते पिता द्वारा अपने कालेज की ही छात्रा से छह वर्ष पूर्व शादी कर लेने के मामले को लेकर अंदर ही अंदर प्रतिशोध की ज्वाला में जल रहा था। मौका पाकर उसने अपने सौतली मां की नृशंस हत्या कर दिया। मृतका कचनरवा से क्षेत्र पंचायत सदस्य भी थी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हरिश्चन्द्र इंटर कालेज के प्रबंधक शिव नारायण गुप्ता ने लगभग छह वर्ष पूर्व अपने कालेज की छात्रा रागिनी से दूसरी शादी किया था। इस शादी को लेकर पहली पत्नी व परिवार के अन्य सदस्यों ने काफी विरोध किया परन्तु शिव नारायण के फैसले के आगे किसी की नहीं चली। धीरे-धीरे मामला सामान्य हो गया। परन्तु पहली पत्नी के छोटे बेटे को पिता का यह कृत्य नागवार गुजरा उसी समय से ही वह  प्रतिशोध की आग में जल रहा था।हालांकि घर से सम्पन्न होने के कारण पिता शिवनारायण गुप्ता ने पुत्र विष्णु 17 वर्ष को अच्छी पढ़ाई करने के लिए डीपीएस स्कूल वाराणसी में दाखिल दिला दिया। एक तरफ तो वह नामी स्कूल में पढ़ाई कर रहा था तो दूसरी तरफ वह सौतेली मां को दुनिया से हटाने के लिए अंदर ही अंदर योजना भी बना रहा था। घटना के दिन उसे यह जानकारी मिली कि आज घर पर अकेले उसकी सौतेली मां ही है। वह वाराणसी से अपने घर कचनरवा आया और घर पहुंचकर आवाज देकर दरवाजे को खोलने के लिए कहा ज्यों ही सौतेली मां ने दरवाजा खोला बदले की भावना से जल भून रहे विष्णु ने अपनी सौतेली मां रागिनी पत्नी शिवनारायण उम्र 28 वर्ष पर ताबड़तोड़ चाकूओं से प्रहार कर उसकी निर्मम हत्या कर दिया। इस घटना के घटते ही पास-पडोस के लोग शिवनारायण के घर की तरफ दौड़ पड़े और हत्यारोपी किशोर विष्णु को मौके पर ही चाकू के साथ दबोच लिया। सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक कोन शिव प्रताप वर्मा मयफोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने शव का पंचनामा कराकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दिया है।
शार्ट-सर्किटसे रातमें धूं-धूं कर जला फ्रि ज
राबट्र्सगंज(सोनभद्र)। करमा थाना क्षेत्र के करकी माइनर के पास प्रमोद कुमार जायसवाल उर्फ दीपू जायसवाल के घर में बुधवार की रात करीब 11 बजे जब परिवार के लोग भोजन-पानी करने के बाद सो रहे थे इसी दौरान शार्ट-सर्किट के कारण फ्रिज में आग लग गई। आग इतनी तेज थी कि उसकी लपट जब दीपू और उसके परिवार के लोगों को महसूस हुई और धुंयें के गुब्बार से पूरा घर भर गया तो लोग जाग उठे, अचानक तेज लपटों के साथ धूं-धूं जलते फ्रिज को देखकर प्रमोद के होश उड़ गए। उसके समझ में नहीं आ रहा था कि इस आग को बुझाने के लिए वह क्या करें। कुछ देर बाद उसने आग को बुझाने के लिए बेड पर रखे चादर को फेंका तो आग और तेज हो गई और लपटें सिलिंग को छूने लगी फिर उसने हिम्मत जुटाते हुए मोटा बिस्तर जब फ्रिज पर फेंका तो आग बुझ गई। इसके बाद उसने फ्रिज का वायर निकालकर बाहर फेका तब जाकर प्रमोद एवं उसके परिजन बाहर निकल पाये। संयोग अच्छा रहा कि आग बुझ गई नहीं तो उस घर में बहुत बड़ा हादसा हो सकता था। उल्लेखनीय है कि भुक्तभोगी जिस घर में रहता है उसी दीवार से सटी हुई उसकी होलसेल व रिटेल की परचून की दुकान है। संयोग अच्छा रहा कि आग फ्रिज तक ही सिमट कर रह गई नहीं तो लाखों रूपये की परचून की दुकान आग की चपेट में आ जाती।