Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नवीनतम समाचार » जौनपुर समाचार

जौनपुर समाचार

घायलोंका जिला अस्पतालमें चल रहा उपचार, पुलिसने शवोंको पोस्टमार्टमके लिए भेजा
जौनपुर। जनपद के अलग-अलग थाना क्षेत्रों हुई सड़क दुर्घटनाओं में दो महिलाओं समेत चार लोगों की मौत हो गयी। मडिय़ाहूं में ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार महिला की मौत हो गयी। सरपतहां में अज्ञात वाहन के धक्के से विक्षिप्त महिला की जान चली गयी। वहीं खेतासराय में दो बाइकों की आमने-सामने हुई टक्कर में अधेड़ की मौत हो गयी जबकि बक्शा में ट्रक से कुचलकर बाइक सवार युवक की मौत हो गयी।
सुइथाकला संवाददाता के अनुसार: सरपतहां थाना क्षेत्र के सरायमोहिउद्दीनपुर पेट्रोल पम्प के पास अज्ञात वाहन की चपेट में आने 50 वर्षीया विक्षिप्त महिला की मौत हो गयी। एक विक्षिप्त महिला लगभग 20 दिनों से सरायमोहिउद्दीनपुर बाजार के आस-पास घूमती रहती थी। किसी को उसके घर परिवार के विषय में जानकारी नहीं थी। शनिवार की रात वह सड़क पर घूमती हुई किसी वाहन की चपेट में आ गयी और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी। सुबह स्थानीय लोगों ने घटना के सम्बन्ध में पुलिस को अवगत कराया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और प्रकरण में आवश्यक कार्यवाही करते हुए शव को अन्त्यपरीक्षण हेतु भेज दिया। मडिय़ाहूं संवाददाता के अनुसार: स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के पाली बाजार में ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार महिला की दर्दनाक मौत हो गई। लाइन बाजार थाना क्षेत्र के पचहटिया राम घाट निवासी 60 वर्षीय शहनाज 60 पत्नी निजामुद्दीन रविवार को अपने पुत्र के साथ बाइक पर बैठकर मेहंदीगंज रिश्तेदारी में जा रही थी। वह जैसे ही पाली बाजार में पहुंची थी कि विपरीत दिशा से आ रही ट्रक की चपेट में आ गई। जिससे शाहनाज की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि वाहन चला रहा उसका पुत्र बाल-बाल बच गया। दुर्घटना के बाद ट्रक चालक ट्रक सहित फरार हो गया। सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक संतोष दीक्षित, एसआई होरीलाल, थानाध्यक्ष सिकरारा अजीत कुमार सिंह, थानाध्यक्ष रामपुर अजय कुमार सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दुर्घटना के बाद लगभग 1 घंटे यातायात प्रभावित रहा। खेतासराय संवाददाता के अनुसार: क्षेत्र के लतीफपुर गांव निवासी भिखारी बिन्द (50) शनिवार की रात बाइक से अब्बोपुर से घर जा रहे थे। अब्बोपुर-जैगहां के बीच पहुंचे थे कि सामने से अमरेथुआं गांव निवासी चंद्रशेखर (17) पुत्र बासू और पप्पू (35) पुत्र सतिराम एक बाइक से रिश्तेदारी में खलौतीपुर आ रहे थे। तभी पुलिया के पास दोनों बाइकों में टक्कर हो गयी। जिसमें तीनों लोग घायल हो गये। घटना के बाद आसपास के लोग पहुंच गये। अब्बोपुर के प्रधान ने अपने निजी कार से सभी घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सोंधी पहुंचाया। जहां घायलों की हालत नाजुक देख जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। परिजन भिखारी बिन्द को लेकर शाहगंज एक निजी चिकित्सालय चले गये। जहां उपचार के दौरान भिखारी की मौत हो गयी। परिजन शव को लेकर घर चले गये। जबकि बाकी दो घायलों को सरकारी एम्बुलेंस से जिला अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया गया। रविवार को सुबह जब पुलिस को जानकारी हुई तो मृतक के घर पहुंच गयी और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सिकरारा संवाददाता के अनुसार: सिकरारा थाना क्षेत्र के ताहिरपुर गांव निवासी रोहित सरोज पुत्र मुन्ना सरोज (23) रविवार की सुबह अपनी बाइक से किसी काम से जौनपुर गया था। लौटते समय पकड़ी ब्लाक चौराहा के निकट ब्रम्ह बाबा मंदिर के पास पीछे से आ रही ट्रक ने ओवरटेक करने के चक्कर में मोटरसाइकिल में जोरदार टक्कर मार दी। जिससे मोटरसाइकिल सवार युवक सड़क पर गिर पड़ा और ट्रक ने उसे कुचल दिया। युवक की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर बक्शा थानाध्यक्ष पहुंच गये तथा शव को अपने कब्जे में ले लिया।
हौसलाबुलंद चोरोंने उप निरीक्षक सहित छह घरोंको खंगाला
सुरेरी। स्थानीय थाना क्षेत्र अन्तर्गत चोरों ने शनिवार की रात आधा दर्जन घरों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया। गांव में चोरी की एक के बाद हो रही घटनाओं से क्षेत्रवासियों में आक्रोश है। जबकि पुलिस चोरों पर लगाने में विफल साबित हो रही है।
क्षेत्र के मलेथू गांव निवासी विजय यादव अपने परिजनों के साथ घर के बाहर सोए हुए थे। वहीं देर रात उनकी पत्नी मनोजा देवी के पैर से चोरों ने पायल काटकर बगल में रखें दो मोबाइल को भी अपने साथ उठा ले गए। इसी गांव निवासी लाल बहादुर यादव की पुत्री सविता अपनी बेटी काजल के साथ घर के बाहर खोई हुई थी। चोरों ने उन दोनों के पैर से भी पायल काट कर फरार हो गए। इसी गांव निवासी भरत लाल यादव के घर में चोरों ने घुसकर मोबाइल व टार्च को भी अपने साथ उठा ले गए। मलेथू गांव निवासी शत्रुघ्न यादव अमेठी जिले में उप निरीक्षक पद पर तैनात हैं। वह भी शनिवार की देर शाम अपने परिजनों के साथ घर के बाहर सोए हुए थे। चोरों ने उनके घर को भी निशाना बनाकर चोरी करने का प्रयास किये। लेकिन परिजन आहट सुन कर जग गए जिससे चोरों को वहां से भागना पड़ा। मलेथू गांव निवासी ज्ञान प्रकाश यादव के घर से दो दिन पूर्व चोरों ने दोपहर में ही एक साइकिल पर हाथ साफ कर दिया। बगल के ही गांव छितिउना निवासी गुलाब गिरी के घर का ताला तोड़कर चोरों ने एक पेटी को पार कर दिया। पीडि़त के अनुसार उक्त पेटी में 10 भर चांदी की एक पैजनी, पांच भर का एक पायल, एक सोने का कनकूल सहित पांच सौ नगद भी था। उक्त सभी चोरियों की सूचना पीडि़तों द्वारा स्थानीय पुलिस को दे दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस आवश्यक जांच पड़ताल में जुट गई। वहीं दूसरी तरफ हौसला बुलंद इन चोरों के आगे मलेथू गांव के ग्रामीण भयभीत नजर आ रहे हैं। अब देखना यह है कि स्थानीय पुलिस इन हौसला बुलंद चोरों की सक्रियता पर कब तक अंकुश लगा पाती है। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष सुरेरी अरविंद सिंह ने बताया कि चोरियों की सूचना मिली है जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
राज कालेजके लिपिकने खुदको मारी गोली
शहरके मछरहट्टïा मोहल्लेमें घटनासे सनसनी
जौनपुर। शहर कोतवाली क्षेत्र के ख्वाजादोस्त (मछरहट्टïा) में रविवार को सवेरे मौत को गले लगाने के इरादे से इंटरमीडिएट कालेज के लिपिक ने खुद को गोली मार ली। उन्हें वाराणसी के एक निजी हास्पिटल में भर्ती कराया गया है। हालत गंभीर लेकिन खतरे से बाहर बताई जा रही है।
राजा श्रीकृष्णदत्त इण्टर कालेज में लिपिक के पद पर कार्यरत 50 वर्षीय राजकुमार सिंह सवेरे घर में बैठकर मां और भाइयों के साथ वार्तालाप कर रहे थे। बातचीत के दौरान ही 8.45 बजे वह उठे और दूसरे कमरे में चले गए। उसी समय कमरे के भीतर गोली चलने की आवाज से लोग सहम गये। कमरे में गए तो भीतर राजकुमार सिंह खून से लथपथ पड़े थे। उक्त कालेज के ही प्रधानाचार्य रहे उनके पिता स्व. सालिग राम सिंह के समय की लाइसेंसी दो नाली बंदूक फर्श पर पड़ी थी। इसी बंदूक से मारी गई गोली सीने को बेंधती हुई पीठ से पार हो गई थी। आनन-फानन परिजन उन्हें जिला अस्पताल ले गये। डाक्टरों ने हालत नाजुक देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें वाराणसी रेफर कर दिया। परिजनों ने उन्हें वाराणसी ले आकर सिंह मेडिकल रिसर्च सेंंटर में भर्ती कराया है। उपचार कर रहे डाक्टरों के हवाले से परिजन ने बताया कि राजकुमार सिंह की हालत अब खतरे से बाहर है। आत्महत्या के प्रयास का कारण साफ नहीं हो सका है। परिजन के अनुसार घर में किसी तरह का कोई विवाद नहीं था। सूत्र बताते हैं कि मोहल्ले में ही स्थित उनके एक आवास पर किसी दबंग ने कब्जा कर रखा है। इसी को लेकर वह तनावग्रस्त थे।
दुकानके सामने बाइक खड़ी करनेको लेकर मारपीट
जफराबाद। स्थानीय कस्बे के सुलेमानी चौराहे पर रविवार को दुकान के सामने बाईक खड़ी करने को लेकर दो पक्षों के लड़कों में मारपीट हो गयी। मामले की सूचना होते ही थानाध्यक्ष मय फोर्स मौके पर पहुंच गए। एक पक्ष के लड़के मौके से फरार हो गए। दुसरे पक्ष से एक घायल युवक की तहरीर पर पुलिस करवाई कर रही है।
जानकारी के अनुसार रविवार को सुबह अहमदपुर गांव के कुछ लड़के जोगिबीर धाम से दर्शन करके बाईक से लौट रहे थे। सुलेमानी चौराहे पर स्थित रूमान पुत्र रिजवान खान की दुकान के सामने बाईक खड़ी कर पास में स्थित नाश्ते की दुकान पर चले गए। बाईक हटाने को लेकर दुकानदार से उक्त लड़कों से बहस हो गयी। मामला बिगड़ते हुए मारपीट की स्थिति आ गयी। उधर दुसरे पक्ष के लोग भी इक_े होने लगे और देखते ही देखते दोनों पक्षों में मारपीट हो गयी। दूसरे पक्ष को भारी संख्या में इक_े घिरते देख अहमदपुर के लड़के मारपीट कर फरार हो गए। मौके पर भारी संख्या में लोग इक_े हो गये। संयोग अच्छा था की एक पक्ष के लड़के मौके से फरार हो चुके थे नहीं तो अप्रिय घटना हो सकती थी। सूचना पर थानाध्यक्ष भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। दूसरे पक्ष के लोगों की भारी भीड़ देखते हुए थानाध्यक्ष देवतानंद सिंह ने सक्रियता व सूझबूझ से मामले को मामले को शांत कराया। रूमान की तहरीर पर मेडिकल मुआयना के बाद चार अज्ञ्ज्ञत सहित कुल आठ लोगों के खिलाफ 147, 323, 504, 506, 452, आईपीसी के तहत मुकदमा लिखा गया। मारपीट करने वाले आरोपितों को पुलिस तलाश कर रही है, घरों पर दबिश दी गयी कोई हाथ नहीं लगा।
वाहन चोर गिरोह चढ़ा पुलिसके हत्थे
केराकत। रविवार को दोपहर पुलिस को एक बड़ी सफलता उस समय मिली जब पेसारा पुलिया के पास एसएचओ शशिभूषण राय के नेतृत्व में वाहन चेकिंग कर रही टीम को वाहन चोरों का एक गिरोह हाथ लग गया जिनके पास से चोरी की दो मोटर साइकिल भी बरामद हो गयी।
पुलिस टीम दोपहर करीब एक बजे पेसारा पुलिया के पास वाहनों की चेकिंग कर रही थी और इसी उद्देश्य से जब इन चोरों को रूकने का इशारा किया तो वे भागने का प्रयास करने लगे किन्तु पुलिस टीम ने इन्हें घेरकर धर दबोचा। वाहनों के कागजात न दिखाने पर पुलिस ने जब सख्ती बरती तो उन्होंने वाहनों की चोरी करना स्वीकार किया। बरामद वाहनों में एक मोटर साइकिल पैशन प्रो तथा दूसरी सीडी डिलक्स है। गिरफ्तार होने वालों में ग्राम सरकी निवासी श्याम सुन्दर पुत्र छेदी लाल कंजहित देवगांव निवासी अवधेश पुत्र छोटेलाल व अमिहित केराकत निवासी राहुल उर्फ बण्टी पुत्र ऊदल शामिल हैं। पुलिस टीम में उपनिरीक्षक शिवराज सिंह यादव, हेड कांस्टेबल सुदिष्टï नरायन, का. बाबूलाल, अनिल यादव व विनोद प्रताप शामिल रहे।
बोलेरो, जाइलोकी टक्कर
में छह घायल
थानागद्दी। चंदवक थाना क्षेत्र के थानागद्दी-मोढ़ैला मुख्य मार्ग स्थित भैंसा नहर पुलिया के पास जाइलो एवं बोलेरो की आमने-सामने हुयी भिडं़त में आधा दर्जन लोग घायल हो गये। घटना के दो घंटे बाद भी पुलिस पहुंची पुलिस। टक्कर इतनी जोरदार थी कि आवाज सुनकर काफी संख्या में आसपास के लोग जमा हो गये और घयलों को बाहर निकालकर अस्पताल भेजा।
जानकारी के अनुसार रविवार को दिन में लगभग डेढ़ बजे केराकत कोतवाली के बम्बावन गंाव निवासी कल्पनाथ यादव अपनी पोती व उसके पुत्रियों के साथ उसके घर जनपद गाजीपुर सैदपुर कोतवाली के पटना गंाव बोलेरो गाड़ी से पहुंचाने जा रहे थे। जैसे ही भैंसा गंाव स्थित नहर पुलिया के पास पहुंचे ही थे कि मोढ़ैला की तरफ से आ रही जायलों से जोरदाद टक्कर हो गयी। घटना में बोलेरो सवार कल्पनाथ यादव (80) निवासी बम्बावन गुनगुन यादव (3), चुनमुन यादव (5) पुत्री प्रमोद यादव, ममता (32) पुत्री लल्लन निवासी सैदपुर पटना व बोलेरो चालक गंभीर रुप से घायल हो गये। वहीं अजगरा वाराणसी से जौनपुर जा रही जायलो सवार सीता देवी (22) पुत्री लौटू साहनी को भी गंभीर चोटें आयी है। स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को उपचार के लिए वाराणसी भेजा गया। सूचना के दो घंटे बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची लिसको लेकर लोगों में आक्रोश था।
पीयू कर्मियोंको मिलेगी होम्योपैथ सुविधा

सिद्दीकपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में अब कर्मचारियों छात्रों को होम्योपैथ की भी सुविधा मिलेगी। इसके लिए कुलपति प्रोफेसर राजाराम यादव ने दो चिकित्सकों की नियुक्ति की है। विश्वविद्यालय ने होम्योपैथिक चिकित्सा के लिए मार्च के महीने में वित्त समिति एवं कार्य परिषद से प्रस्ताव पारित करा कर आवेदन निकाला था। जिसके क्रम में होम्योपैथी और एलोपैथ के मेडिकल अफसर पद के लिए कुल 15 आवेदन मिले थे। जिनके प्रक्रिया पूरी करने के बाद होम्योपैथी चिकित्सा सुविधा के लिए डा. पुनीत सिंह को नियुक्त किया गया। वहीं एलोपैथ चिकित्सा के लिए डा. अब्दुल रहमान मुजाहिद को नियुक्त किया गया। कुलसचिव ने पत्र जारी करते हुए निर्देशित किया कि कम से कम 3 घंटे चिकित्सालय में बैठकर मरीजों को सुविधा देनी होगी और सप्ताह में 6 दिन चिकित्सालय में रहना होगा। इसके पूर्व में भी डा. अब्दुल मुजाहिद को एलोपेथ चिकित्सा के लिए रखा गया था लेकिन वह माह में कभी कभार आते थे, जिसके लिए पीयू ने इनका भुगतान रोक दिया था, लेकिन पुन: एलोपेथ मेडिकल अफसर के पद पर नियुक्त कर कर्मचरियों ने सवाल खड़ करने शुरू कर दिए।
चिकित्साधीक्षक आवासपर अराजक तत्वोंने की तोडफ़ोड़

बदलापुर। स्थानीय तहसील क्षेत्र के बदलापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आये दिन चिकित्सकों पर हो रहे हमले तथा चिकित्साधीक्षक आवास पर शनिवार की रात घटी घटना से जहां चिकित्सकों में भय व्याप्त है वहीं आक्रोशित चिकित्सकों ने बदलापुर थाने में सुरक्षा की मांग की।
जानकारी के अनुसार शुक्रवार की रात लगभग 9 बजे मरीज दिखाने के बहाने आये कुछ अराजक तत्वों ने चिकित्साधीक्षक सुरेश चन्द वर्मा के आवास पर दरवाजा पीटते हुए आवाज लगायी। ज्योंही गेट खुला अराजक तत्वों ने तोडफ़ोड़ करते हुए घर का शीशा तोड़ दिया और बाइक को क्षतिग्रस्त कर दिया। मौके पर पहुंचे चीफ फार्मासिस्ट राजकुमार पांडेय ने मामले की गम्भीरता देखते हुए पुलिस को घटना की जानकारी दी। सूचना पर तत्काल पहुंचे कोतवाल को देख अराजक तत्व फरार हो गए। सुबह होते ही हमले को लेकर चिकित्सकों ने सुरक्षा को लेकर लामबंद होकर अस्पताल में ताला लगा दिया। जिसके चलते मरीजों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ा। बताते चलें कि कुछ समय पहले अस्पताल में मरीज देखते समय अराजक तत्वों ने डा. संजय दुबे की पिटाई कर दी थी। इसके कुछ समय बाद अस्पताल में ही डा. रफीक सिद्दीकी पर प्राणघातक हमला करते हुए उनका पैर तोड़ दिया। समय बीतते देर नहीं की फिर इसी अस्पताल में 28 मई की रात्रि डेढ़ बजे के लगभग इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात डा. संजीव यादव के साथ भी अभद्र व्यवहार किया गया। इस प्रकार अस्पताल में हो रहे लगातार हमले से डाक्टरों ने खेद प्रकट करते हुए अस्पताल में ताला लगा दिया और दवा विक्रेताओं ने भी अपनी अपनी दुकानें बंद कर दी।
जहरीला जंतु काटनेसे तीनकी गयी जान
जौनपुर। जनपद के अलग-अलग क्षेत्रों में विषैला जंतु काटने से दो किशोर सहित तीन की मौत हो गयी। खेतासराय में बाथरूम गये किशोर को सर्प ने काट लिया। जिससे उसकी मौत हो गयी। गौराबादशाहपुर में सोते समय सर्प काटने से युवक की मौत हो गयी वहीं सुरेरी में खेलते समय सर्प काट लेने से एक किशोर की मौत होने का मामला प्रकाश में आया है।
मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार: गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम नैपुरा बस्ती में युवक सुरेश पुत्र बैजू (32) को सांप ने रात्रि में डस लिया जिससे उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि युवक रात्रि में खाना पीना खाकर चारपाई पर सोया था। अर्ध रात्रि के बाद उसके बाएं पैर में सर्प ने काटा तो वह झटपट उठ गया। उसने घर वालों को बताया कि हमें कुछ काट लिया। थोड़े ही देर में वह बेहोश होने लगा। घर के लोग आनन-फानन में उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुफ्तीगंज ले गए। जहां डाक्टर ने कहा कि देर हो गई घर ले जाओ लेकिन घर वाले झाड़ फूक में विश्वास कर गाजीपुर ले गए लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। मृतक के दो पुत्र व एक पुत्री है। युवक की मौत के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। खेतासराय संवाददाता के अनुसार: क्षेत्र के खलौतीपुर गांव में शनिवार की रात एक बालक की सर्प दंश से मौत हो गयी। गांव के धर्मेंद्र का 10 वर्षीय पुत्र सूजीत गौतम रात्रि में बाथरूम के लिये गया था। तभी किसी सर्प ने उसे काट लिया। जानकारी होने पर परिजन खेतासराय एक निजी चिकित्सक के यहां लेकर आये। जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बालक को जिंदा होने की उम्मीद लिए परिजन रातभर चिकत्सकों यहां दौड़ते रहे। यहां तक की झाडफ़ूंक भी कराया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। आखिरकार थक हार कर परिजनों ने रविवार को सुबह शव का अंतिम संस्कार कर दिया। सुरेरी संवाददाता के अनुसार: स्थानीय थाना क्षेत्र के भानपुर गांव निवासी अभय गिरी (13) पुत्र अवधू गिरी शनिवार की देर शाम घर से कुछ ही दूर पर खेल रहा था। अचानक किसी विषैले जंतु ने उसे काट लिया लेकिन उक्त बालक को कुछ भी जानकारी नहीं हो सकी। वहीं शनिवार की देर रात अचानक बालक की तबीयत खराब होने लगी, आनन-फानन में परिजन उसे उपचार हेतु भदोही के एक निजी अस्पताल ले गए। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।
बारातसे बाइक चोरी
खुटहन। थाना क्षेत्र के मोजीपुर ग्राम में लालता गौतम के यहां बारात गये इमामपुर गांव निवासी शिव पूजन सोनी जनवासे में अपनी बाइक खड़ी करके द्वारचार के लिए चले गये। कार्यक्रम संम्पन्न होने के बाद जब दुबारा जनवासे में लौटे तो उनकी बाइक पैसन प्लस यूपी 62 एल 1851 वहां नहीं थी। बहुत खोजबीन करने बाद भी बाइक नहीं मिली। पीडि़त ने पुलिस को लिखित तहरीर दिया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
सम्मलेनमें कांग्रेसियोंने भरी सरकारके खिलाफ हुंकार

खुटहन। केंद्र एवं प्रदेश की भाजपा सरकार से जनता ऊब चुकी है। भाजपा सरकार जनता को झूठ बोलकर बहका रही है। देश की जनता कांग्रेस की तरफ आशा भरी निगाहों से देख रही है। उक्त बातें रविवार को डा. टीकेयू पब्लिक स्कूल परिसर में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश सचिव श्याम किशोर शुक्ल ने ब्लाक कांग्रेस कमेंटी खुटहन द्वारा आयोजित ब्लाक स्तरीय सम्मलेन में बतौर मुख्य अतिथि कही। श्री शुक्ल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कार्यकर्ता घर-घर जाकर कांग्रेस पार्टी के सन्देश को लोगों तक पहुचाएं। जिलाध्यक्ष इन्द्रभुवन सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी देश का धन लूटकर चन्द पूंजीपतियों को मालामाल कर रहे हैं। नीरव मोदी, विजय माल्या आदि लोग नरेंद्र मोदी की कृपा से देश की जनता का पैसा हड़प कर विदेश भाग गये। कार्यक्रम प्रभारी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश सदस्य राम चन्द्र मिश्र ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता आगामी लोकसभा चुनाव के लिए तैयार रहें। भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियां, बढती महंगाई चरम पर पहुंच चुकी है। बेरोजगारी से जनता त्रस्त हो चुकी है। श्री मिश्र ने कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि आगामी चुनाव में केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी। कार्यक्रम का संचालन ब्लाक अध्यक्ष राकेश मिश्रा ने किया। इस मौके पर विनोद त्रिपाठी, कमला शंकर तिवारी, प्रेम लाल यादव, परवेज अहमद, विजय उपाध्याय, संतोष मिश्रा, सत्य प्रकाश तिवारी सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
सुदामा चरित्रकी कथा सुन भाव विभोर हुए श्रोता

जलालपुर। क्षेत्र के तालामझवारा ग्राम में अमला पांडेय के आवास पर चल रही श्रीभागवत कथा का हवन पूजन व विशाल भंडारे के साथ समापन हो गया। भागवत कथा के समापन के अवसर पर वाराणसी से पधारे कथा वाचक आचार्य प्रमोद त्रिवेदी जी महाराज ने शनिवार को सुदामा चरित्र की कथा सुनाकर श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया।
कथा के दैरान उन्होंने कहा कि गुरु के साथ कपट और मित्र के संग चोरी करने वाला दरिद्र हो जाता है। आश्रम में शिक्षा ग्रहण करने के दौरान सुदामा ने अपने मित्र कृष्ण की नजर बचाकर गुरु के दिए चने अकेले ही खा लिए जिस कारण वह दरिद्रता को प्राप्त हुए। सुदामा ने एक दिन पत्नी को अपनी और भगवान कृष्ण की दोस्ती के बारे में बताया तो सुदामा की पत्नी ने उन्हें कृष्ण जी के पास जाकर जीवन निर्वाह के लिए कुछ धन लाने को कहा। द्वारिकापुरी में भगवान कृष्ण ने बचपन के मित्र सुदामा की खूब खातिरदारी की और सुदामा के प्रेम में मगन होकर आंसुओं से उनके पैर धो डाले। इसके बाद भगवान ने सुदामा को अलौकिक वरदान देकर घर भेजा। सुदामा चरित्र की झांकी देखकर पंडाल में उपस्थित सभी की आंखे नम हो गयी। इस दौरान मंच पर मंचासीन आचार्य का आयोजक अमला पांडेय, बृज नारायण, सूर्यमणि पांडेय, ज्योति प्रकाश, अम्बुज, शिव प्रकाश, सत्यप्रकाश, वेद प्रकाश, श्रुति प्रकाश, अम्बुज, पंकज, नीरज आदि लोगों ने दुशाला ओढाकर सम्मान किया।
चोरोंने ७० हजारका माल किया पार
केराकत। क्षेत्र के सरकी बाजार में अपनी रोजी रोटी के लिए देवाशीष विश्वकर्मा निवासी बजरंग नगर का दिव्यांश डिजटल प्वाइंट की नाम से दुकान है। चोरों ने शुक्रवार की रात दुकान से दो ड्रिल मशीन, एक कटर मशीन, एक ग्रेंड मशीन, दो स्टेबलाइजर, एक टीबी, केबल 4 बंडल, सर्किट बाक्स आदि सामान लेकर चम्पत हो गए। दुकान मालिक के अनुसार चोरी में गई सामान की लागत 70 हजार बताई जा रही है।
नौकरीके नामपर ठगी करने वाले चार आरोपी गिरफ्तार
नेवढिय़ा। थाना क्षेत्र के तिलंगा गांव निवासी अर्चना भारती ने चंदवक थाना क्षेत्र के मुरखापुर गांव निवासी धर्मेंद्र खरवार से नौकरी दिलाने के नाम पर साढ़े तीन लाख रुपये ले लिया था। पैसा देने के कुछ महीनों पश्चात जब धर्मेंद्र खरवार ने अर्चना भारती से नौकरी के बारे में पूछा तो अर्चना भारती ने उसे फूड कारपोरेशन आफ इंडिया (एफसीआई) का नियुक्ति प्रमाण पत्र सौंप दिया।
पीडि़त युवक जब प्रमाण पत्र लेकर संबंधित विभाग पहुंचा तो वहां से उसे पता चला कि यह प्रमाण पत्र फर्जी है। तब युवक को यह एहसास हुआ कि उसके साथ ठगी हो गई हैं। पीडि़त युवक जब अपने पैसों की मांग करने नेवढिय़ा थाना क्षेत्र के तिलंगा गांव पहुंचा तो आरोपीत अर्चना भारती और उसके परिजनों ने पीडि़त युवक को फर्जी दुराचार के मुकदमे में फंसाने और जान से मारने की धमकी देने लगे। डरा-सहमा युवक नेवढिय़ा थाने पहुंचकर पुलिस को मामले से अवगत कराया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर तिलगा गांव निवासी अर्चना भारती, हरिशंकर जयसवार, शकुंतला देवी व दिलीप जयसवार के खिलाफ आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468, 504, 506, 352 के तहत मुकदमा भी दर्ज कर लिया था। वहीं रविवार की सुबह मुखबिर की सूचना पर नेवढिय़ा पुलिस ने उक्त महिला आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष नेवढिय़ा विनोद यादव ने बताया कि नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले उक्त महिला सहित चार आरोपितों के ऊपर कई माह पूर्व मुकदमा पंजीकृत हुआ था। जिसमें मुखबिर की सूचना पर रविवार को गिरफ्तार कर इन्हें जेल भेज दिया गया।
ट्रेनोंमें अवैध रूपसे चल रहे वेंडर

जंघई। जहां यात्रियों को अच्छी सुख सुविधा देने के लिए रेल विभाग नित नए दावे करता है। वहीं जंघई रेलवे स्टेशन से अवैध रूप से चलने वाले वेंडर और आरपी एफ मिलकर विभाग के दावों को खोखला साबित कर रहे है। अवैध रूप से चल रहे वेंडर आइस्क्रीम, पानी, खीरा, समोसे एवं अन्य खाने पीने वाले सामान को मनमानी रेट पर बेच कर यात्रियों का शोषण कर रहे हैं।
इन वेंडरों को मनमानी करने से न रोका जाना आरपीएफ विभाग की मिली भगत खुद ही साबित कर रहा है। लोगों की माने तो उनकी मोटी कमाई का एक बढिय़ा श्रोत अवैध वेंडर बने हुए हैं। इसलिये आरपीएफ विभाग उनके ऊपर कोई कार्रवाई करने से बचती है। यही नहीं ट्रेनों में वेंडरों का आतंक जगजाहिर है। वेंडर यात्रियों को मनमानी रेट पर सामान बेचने के अतिरिक्त बदतमीजी भी करते हैं। लोग यात्रा में होने के कारण अपमान का घूंट पी कर रह जाते हैं। चाह कर के भी उनके खिलाफ मुंह नहीं खोल पाते। एक माह पूर्व वेंडरों ने कई स्टेशनों पर उत्पात मचाया था। जिससे क्षुब्ध होकर रेल विभाग के उच्चाधिकारियों ने अवैध रूप से चल रहे वेंडरों के चलने पर रोक लगा दी थी। जिससे यात्रियों को काफी सहुलियत मिली लेकिन वेंडरों का चलन पुन: शुरू हो गया है। ट्रेन में यात्रियों व वेंडरों में नोक झोंक होना आम बात हो गई है और पुलिस ऐसे लोगों के ऊपर कोई कार्रवाई करने से बचती दिखाई देती है। फिलहाल अगर रेल विभाग के उच्चाधिकारियों के द्वारा अवैध रूप से चल रहे वेंडरों पर अंकुश नहीं लगाया तो इसके भयंकर परिणाम हो सकते हैं।
चार जुआड़ी गिरफ्तार
मडिय़ाहूं। स्थानीय कोतवाली पुलिस ने रविवार को 4 जुआरियों को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। रविवार को प्रभारी निरीक्षक सन्तोष दीक्षित ने मुखबिर की सूचना पर पुलिस बल के साथ बेलवा बाजार में पहुंचकर जुआ खेलते 4 जुआरियों जय प्रकाश यादव, मुंसे, शकील व पप्पू को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से जामा तलाशी के दौरान 3500 रुपए नगद बरामद हुए। पुलिस मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।
इलाजके लिए दर-दर भटक रहे मरीज
जंघई। जंघई निदेशक आयुर्वेद के एक आदेश के चलते प्रदेश भर मे राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालयों मे इंचार्ज फार्मेसिस्टो को सामान्य उपचार और रोगी रजिस्टर पर लिखने का दिया निर्देश निरस्त करदेने से पूरे प्रदेश के इंचार्ज फार्मेसिस्टो द्वाराउपचार बन्द कर दिया गया है जिससे चिकित्सक विहीन हजारो  चिकित्सालयों मे चिकित्सा बाधित हो गई है और आयुर्वेद का मरीज दर दर भटक रहे है ।
प्रदेश के आयुर्वेदिक चिकित्सालयों मे कई दशक से यह परम्परा रही कि चिकित्साधिकारी के अवकाश काल मे अथवा पद रिक्त होने की दशा मे फार्मेसिस्ट इंचार्ज हो जता रहा और जनहित मे चिकित्सालय  का संचालन करता चला आ रहा था किन्तु जनवरी 17मे एक जनसूचना के जवाब मे रजिस्ट्रार भारतीय चिकित्सा परिषद तथा निदेशक आयुर्वेद ने लिखित अवगत कराया की फार्मेसिस्ट को चिकित्सा का कोई अधिकार नही है । इस सूचना के सरेआम हो जाने पर प्रदेश भर के फार्मेसिस्टो मे भूचाल आ गया  और निदेशक आयुर्वेद का घेराव कर चिकित्सा अधिकार  विहीन होने पर ओपीडी बन्द करने की बात की । जिसपर निदेशक ने एक निर्देश जारी कर दिया की चिकित्साधिकारी की अनुपस्थिति मे फार्मेसिस्ट इंचार्ज जनहित मे सामान्य उपचार एव रोगी रजिस्टर मे प्रविष्टी करे किन्तु 23 मई को अपने उस निर्देश को शाशन के दबाव मे तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया। फार्मेसिस्टो के प्रांतीय सगठन ने इसे गम्भीरता से लेते हुए 24मई को निदेशक और आयुष सचिव को लिखित अवगत करा दिया कि एक सप्ताह मे यदि 9 मई के निर्देश की बहाली नही होती तो अधिकार विहीन इंचार्ज फारमेसिस्ट 1 जून से ओपीडी लिखना बन्द कर देगे और इस दुव्र्यवस्था के जिम्मेदार निदेशक और शचिब आयुष होगे। समय को दरकिनार करते हुए निदेशक ब शाशन गम्भीता से नही लिया और इंचार्ज फार्मेसीस्टपहली जून से ओपीडी लिखना बन्द कर दया है जिससे आयुर्वेडिक अस्पतालों के  दैनिक रोगी दर दर इलाज पाने को भटक रहे है सरकार के कान मे जू नही रेंग रही है। उक्त जानकारी देते हुए इलाहाबाद के शाखा अध्यक्ष दिवाकर द्विवेदी ने बताया की बिना अधिकार के हमसे यह कार्य लेना न्यायसंगत नही है इसलिए पूरे प्रदेश के इंचार्ज फार्मेसिस्टो ने निदेशक आयुर्वेद के आदेशों के अनुपालन मे ओपीडी मे रोगी प्रविष्टी एक जून से बन्द कर दिए है। बिना आवश्यक व्यवस्था किए निदेशक द्वारा अधिकार निस्स्त किया जाना अदूरदर्शी फरमान साबित हो रहा है।
ईदगाह पहुंचे चेयरमैनने दी ईदकी बधाई
जफराबाद। ऐन केन प्रकारेण हमेशा लोंगों मे चर्चा का विषय बने रहने वाले नगर पंचायत जफराबाद के चेयरमैन प्रमोद बरनवाल ने ईद के दिन सुबह हाफ पैंट पर ही अपने भारी भरकम समर्थकों के साथ जहां ईदगाह पहुंच कर मुस्लिम भाइयो को गले लगाकर ईद की दिली मुबारकबाद दिया। वहीं दूसरी ओर लोगों मे हाफ पैंट पर ही ईदगाह पर आने की चर्चा जोरों पर रही। इस बाबत जब लोगों ने चेयरमैन प्रमोद बरनवाल से पूछा तो उन्होंने कहा कि कपड़ा कोई भी हो उससे नही मतलब। हमारा मकसद हैं हर व्यक्ति के दिलों पर राज करना। मैं खुद को चेयरमैन नहीं बल्कि जनता का सेवक जानता हूं और जनता के हर सुख दुख में मैं उनके साथ खड़ा रहने की पूरी कोशिश करता हूं। इस अवसर पर शिवम बरनवाल, शाह नेयाज अहमद, चद्रशेखर सरोज, सौरभ, गुफरान अहमद, अजय मौर्य, आकाश अग्रहरि शनि गुप्ता सहित तमाम समर्थक उपस्थित रहे।
आगसे दो चार पहिया वाहन जलकर राख
सुजानगंज। थाना क्षेत्र के शिवरिहां गांव में शनिवार की रात अज्ञात कारण से आग लगने के कारण दो कार सहित घर में रखा गृहस्थी का सारा सामान जल कर राख हो गया। जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी शिव बरन शुक्ला के मोटर गैरेज में भोर में लगभग तीन बजे अज्ञात कारण से लगी आग से गैरेज में मयकागज खड़ी कार मारुती 800 तथा इंडिगो सीएस और जमीन का कागजात तथा बगल में रखे भूसें में गेहूं, सरसों, सहित गृहस्थी का सामान जल कर राख हो गया। ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया गया। सूचना मिलते ही डायल 100 भी मौके पर पहुंची। पीडि़त की तहरीर पर पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।
दुर्घटनामें युवक घायल
बदलापुर। नगर पंचायत बदलापुर के सरोखन पुर वार्ड निवासी मनिष पुत्र फुर्ती लाल दिन के सवा दो बजे के लगभग आवश्यक कार्य हेतु साईकिल से बाजार जा रहा था। ज्योंही सब्जी मंडी के समीप नहर की पुलिया पर पहुंचा ही था कि तीव्र गति से आ रही ट्रेलर के चपेट में आ गया। मनीष को घायलावस्था में अस्पताल लाये। चिकित्सको ने पैर मंर गम्भीर चोट देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद जिला मुख्यालय रेफर कर दिया।