Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


खेलोंमें डोपिंग और धोखेबाजी बर्दाश्त नहीं-राठौड़

नयी दिल्ली (एजेन्सियां)। खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने आज अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थामस बाक से मुलाकात करके खेलों को पाक साफ रखने का आश्वासन देते हुए कहा कि मंत्रालय डोपिंग या धोखेबाजी को बर्दाश्त नहीं करेगा। आईओसी, एशियाई ओलंपिक परिषद और आईओए के प्रतिनिधिमंडल ने आज राठौड़ से मुलाकात की। एक घंटे तक चली मुलाकात में दोनों पक्षों में खेलों को बढ़ावा देने, अच्छे प्रशासन और अंतरराष्ट्रीय खेल महासंघों में आपसी संबंध मजबूत बनाने पर बात की। राठौड़ ने हाल ही में संपन्न खेलों इंडिया स्कूली खेलों को कम उम्र में ही खिलाडिय़ों को तलाशने का मंच बताया। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी कालेज और यूनिर्विसटी स्तर पर इनका आयोजन किया जायेगा। खेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा भारतीय ओलंपिक संघ की मदद से सरकार ने खेल कोड बनाया है जिससे राष्ट्रीय खेल महासंघों की कार्यशैली में पारर्दिशता लाई जायेगी, प्रतिस्पर्धाओं के लिये खिलाडिय़ों का निष्पक्ष चयन होगा और खेल ईकाइयों को मिलने वाले अनुदान का उचित उपयोग होगा। राठौड़ ने साफ तौर पर कहा कि मंत्रालय खेलों में डोपिंग या धोखेबाजी बर्दाश्त नहीं करेगा। मंत्रालय ने कहा कि बाक ने खेलों में पारर्दिशता और अच्छा प्रशासन लाने के लिये भारत सरकार के प्रयासों की सराहना की। इससे पहले बाक ने अच्छे प्रशासन और खेल महासंघों की स्वायत्ता के महत्व को लेकर आईओए और खेल मंत्रालय के साथ चर्चा की। उन्होंने कहा आईओए और खेल मंत्रालय ने हमें आश्वासन दिया है कि अच्छे प्रशासन और स्वायत्ता को लेकर कोई समझौता नहीं किया जायेगा। ये दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं और दोनों को पर्याप्त महत्व दिया जाना जरूरी है। एक सवाल के जवाब में बाक ने कहा डोपिंग को लेकर भी हमारी खेल मंत्रालय से बात हुई है। हमने उनसे कहा कि पाक साफ खिलाडिय़ों को संरक्षण मिले और फेयरप्ले सुनिश्चित किया जाय।

प्रतिस्पर्धाओं में धांधली ना हो। हमें खेल मंत्रालय से ठोस आश्वासन मिला है । उन्होंने कहा है कि निष्पक्ष और साफ सुथरे खेल हमारी प्राथमिकता है और भारत पाक साफ खिलाडिय़ों के साथ पदक जीतना चाहता है।