Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


सिंधू, सायनाकी खिताबी राह आसान नहीं

नयी दिल्ली (एजेन्सियां)। पूर्व चैम्पियन पीवी सिंधु और सायना नेहवाल को इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नमेंट में मुश्किल ड्रा मिला है लेकिन भारत में कोरोना वायरस के २९ मामले पाये जाने के कारण इस टूर्नमेंट पर भी खतरा मंडरा रहा है। सिंधु २४ मार्च से शुरू होने वाले इस विश्व टूर सुपर ५०० टूर्नमेंट में अपने अभियान की शुरुआत हांगकांग की चेयुंग नगान यी के खिलाफ करेगी और क्वार्टर फाइनल में उनका मुकाबला कनाडा की सातवीं वरीय मिशेली ली से हो सकता है। सायना पहले दौर में चीनी ताइपै की पाइ यु पो से भिड़ेगी और दूसरे दौर में उन्हें आठवीं वरीयता प्राप्त कोरियाई सुंग जी ह्यून का सामना करना पड़ सकता है। लंदन ओलिंपिक की कांस्य पदक विजेता के पास लगातार चौथे ओलिंपिक खेलों में जगह बनाने के लिए बहुत कम समय बचा है। पुरुष एकल में पांचवीं वरीयता प्राप्त किदाम्बी श्रीकांत पहले दौर में क्वालिफायर से भिड़ेंगे और फिर उनका सामना हमवतन लक्ष्य सेन से हो सकता है। सेन भी क्वॉलिफायर के खिलाफ अभियान की शुरुआत करेंगे। सायना की तरह श्रीकांत भी तोक्यो ओलिंपिक में जगह बनाने के लिए २८ अप्रैल की समयसीमा तक शीर्ष १६ में जगह बनाने की कोशिश में लगे हैं। ओलिंपिक में अपनी जगह लगभग पक्की कर चुके तीसरी वरीयता प्राप्त बी साई प्रणीत पहले दौर में हमवतन एच एस प्रणय का सामना करेंगे। समीर वर्मा का सामना थाइलैंड के सिटीकोम थम्मासिन से, सौरभ वर्मा का चीनी ताइपै के सातवीं वरीयता प्राप्त वांग जु वेई से और पारुपल्ली कश्यप का थाइलैंड के खोसित फेटप्रादाब से मुकाबला होगा  सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की सातवीं वरीयता प्राप्त पुरुष युगल जोड़ी का सामना जापान के ताकुरो होकी और युगो कोबायाशी से होगा। लेकिन टूर्नमेंट पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं क्योंकि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या २९ हो गयी है जिनमें दो मामले दिल्ली से हैं। इसके कारण सरकार ने इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया, जापान के नागरिकों को तीन मार्च या उससे पहले दिए गए वीजा या ई वीजा निलंबित कर दिए हैं।