Mob: +91-7905117134,0542 2393981-87 | Mail: info@ajhindidaily.com


आईपीएल फार्मेटमें छेड़छाड़ नहीं चाहती फ्रेंचाइजी

कोलकाता (एजेन्सियां)। घातक कोरोना वायरस के कारण टी-२० विश्वकप पर तो संकट के बादल मंडरा रहे हैं लेकिन क्रिकेट प्रशंसकों को उम्मीद है कि आईपीएल का इस साल आयोजन हो सकता है। हालांकि इस प्रतिष्ठित टी-२० लीग की फ्रेंचाइजी चाहती हैं कि इसके फार्मेट में किसी तरह की छेड़छाड़ ना हो। पूर्व चैम्पियन टीम कोलकाता नाइटराइडर्स के सीईओ वेंकी मैसूर का कहना है कि कोरोना वायरस से प्रभावित कैलेंडर में जगह बनाने के लिए आईपीएल के फार्मेट में किसी भी तरह की 'छेड़छाड़Ó उन्हें स्वीकार्य नहीं होगी।  मैसूर ने गुरुवार को दावा किया कि सभी फ्रेंचाइजी चाहती हैं कि यह टूर्नामेंट अपने पूर्ण स्वरूप (जैसे पहले से होता आया है) में आयोजित हो। कोविड-१९ महामारी के चलते मार्च में लगे लॉकडाउन के कारण आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था। अब भी चीजें स्पष्ट नहीं हैं कि इसे इस साल आयोजित किया जायेगा या नहीं लेकिन टी-२० विश्वकप को लेकर चल रही अनिश्चितता के कारण अक्तूबर-नवम्बर में एक विंडो बनने की संभावना लग रही है। केकेआर के सीईओ ने वर्चुअल पत्रकारों से कहा मुझे लगता है कि सभी का विचार यही है कि हमें यह टूर्नामेंट पूर्ण फार्मेट में आयोजित करना चाहिए, इसमें उतने ही संख्या के मैच होने चाहिए और सभी खिलाड़ी इसका हिस्सा बनें। ऐसे भी सुझाव आ रहे हैं कि आईपीएल को विदेशी खिलाडिय़ों के बिना आयोजित किया जा सकता है क्योंकि कई देशों ने यात्रा संबंधित पाबंदियां लगाक्र हुई हैं और इसके मैचों की संख्या कम कर दी जाय ताकि यह छोटी विंडो में पूरा हो जाय।