Latest News सम्पादकीय साप्ताहिक

महाशक्तियोंकी खुलती पोल

  मानी जाती हैं। इन्हें अपनी ताकतपर घमंड है। थोड़ा बहुत नहीं, बहुत ज्यादा घमंड है। इसी घमंडमें की गयी गलतियां इनकी शक्तिकी पोल खोलनेमें लगी हैं। पिछले लगभग एक डेढ़ सालमें स्पष्ट हो गया कि ये कितना भी दंभ भरें इनमें छोटेसे छोटे देशसे लड़नेतककी ताकत नहीं है। एक साल पहले अमेरिका अफगानिस्तानसे जिस […]

Latest News राष्ट्रीय सम्पादकीय साप्ताहिक

आबेके बाद भारत-जापान रिश्ता

  मार्च, २०२२ में सम्पन्न १४वें शिखर सम्मेलनमें भारत और जापानने साइबर सुरक्षा, सतत शहरी विकास सहयोग, कनेक्टिविटी, जल आपूर्ति, सीवेज, जैव विविधता, बागवानी, स्वास्थ्यके क्षेत्रमें ऋण समझौता, विकेन्द्रीकृत घरेलू अपशिष्टï जल प्रबन्धन, औद्योगिक प्रतिस्पर्धा भागीदारी रोडमैप सहित अनेक समझौते किये गये। इसके साथ ही क्वाडमें संयुक्त राज्य अमेरिका एवं आस्ट्रेलियाके साथ मिलकर भारत और […]

Latest News सम्पादकीय साप्ताहिक

भारतको साधना अमेरिकाकी मजबूरीभारतको साधना अमेरिकाकी मजबूरी

अमेरिका फर्स्टकी पालिसीके तहत अमेरिका अपने हितोंकी रक्षा करनेके लिए किसी भी हदतक जा सकता है। अमेरिकाको इस बातसे कोई फर्क नहीं पड़ता कि किसी दूसरे देशपर इससे क्या फर्क पड़ता है। बेशक अमेरिकी नीतिसे प्रभावित होनेवाला देश उसके मित्रोंकी सूचीमें ही क्यों न शामिल हो। कहनेको अमेरिका भारतको अपना दोस्त बताता है। उसकी यह […]

Latest News अन्तर्राष्ट्रीय नयी दिल्ली राष्ट्रीय सम्पादकीय साप्ताहिक

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री लिज ट्रस के कार्यकाल में भारत-ब्रिटेन के रिश्ते परवान चढ़ने की उम्मीद

। ब्रिटेन को पछाड़ते हुए भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। भारत की जीडीपी साढ़े तीन ट्रिलियन डालर हो चुकी है। अर्थशास्त्री जिम ओ नील ने भी लिखा है कि भारत जल्द ही विश्व को सबसे अधिक प्रभावित करने वाले देशों में से एक होगा। इसमें कोई दो राय नहीं कि […]

Latest News नयी दिल्ली राष्ट्रीय सम्पादकीय साप्ताहिक

हिंदी दिवस 2022: महान हस्तियों ने राजभाषा की तारीफों के बांधे पुल, जानकर होगा हिंदी भाषी होने का गर्व

नई दिल्‍ली, । आज देश में हिंदी दिवस (Hindi Divas) मनाई जा रही है। इसे 14 सितंबर के दिन मनाया जाता है। भारत में वैसे तो कई भाषाएं बोली जाती हैं, लेकिन यहां हिंदी का एक अहम स्‍थान है। भारत में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा हिंदी है। जमाना आज वैश्‍वीकरण का है ऐसे […]

Latest News लखनऊ सम्पादकीय

आजमगढ़ और रामपुरके जनादेशके निहितार्थ

इसमें कोई दो राय नहीं है कि देशकी राजनीतिमें उत्तर प्रदेशका विशेष स्थान है। यहां होनेवाले छोटेसे छोटे चुनाव नतीजोंको देशकी राजनीतिका मूड समझनेका पैमाना मान लिया जाता है। ये कहा जाय कि यूपी चुनावके नतीजे देशकी भावी राजनीतिकी दिशा और दशा तय करते हैं तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। पिछले दिनों उपचुनावके नतीजे घोषित […]

Latest News नयी दिल्ली महाराष्ट्र सम्पादकीय

व्यूहरचनामें कमजोर रहे ठाकरे

उद्धव ठाकरेने त्यागपत्रके बाद कहा कि उन्होंने जिन लोगोंको सड़कसे उठाकर विधायक और मंत्री बनाया उन्होंने ही उन्हें धोखा दिया और अब मैं विधान भवनमें ऐसे लोगोंसे आमना-सामना नहीं करना चाहता। यहां यह ध्यान देनेकी बात है कि शिवसेनाके जिन ३९ विधायकोंने बगावत की और अपने नेताका साथ छोड़ा उन्होंने उद्धव ठाकरेपर एक भी आरोप […]

Latest News नयी दिल्ली राजस्थान सम्पादकीय

कन्हैयाके हत्यारे मात्र अपराधी नहीं

उदयपुरके कन्हैयालाल दर्जीकी हत्या ठीक वैसे ही है जैसे फ्रांसमें १६ अक्तूबर, २०२० को सैमुअल पेटी शिक्षकका एक चेचेन मुसलमान जेहादी आतंकवादीने सिर कलम कर दिया था। हत्यारा अब्दुलाख अबौयदोविच अंजोरोवको बताया गया था कि पेटीने अपनी कक्षामें अभिव्यक्तिकी स्वतंत्रतापर बोलते हुए छात्रोंको शार्लो हेब्दोके २०१२ के कार्टून दिखाये थे, जिसमें पैगंबर मोहम्मद साहबकी छवि […]

Latest News नयी दिल्ली सम्पादकीय साप्ताहिक

पर्यावरण दिवस : केवल एक पृथ्वी

‌विश्व पर्यावरण दिवस 2022 की थीम, ‘केवल एक पृथ्वी’, प्रकृति के साथ सद्भाव में रहने पर केंद्रित है जब पर्यावरण के अनुकूल और टिकाऊ सामग्री खरीदना चाहते हैं, तो जूट मेरी सूची में सबसे ऊपर है। जूट न केवल पर्यावरण के अनुकूल है, बल्कि यह एक अत्यंत टिकाऊ फाइबर भी है जो कुछ गंभीर पहनने […]

Latest News राष्ट्रीय सम्पादकीय साप्ताहिक

अर्थ आवर 2022: अपनी अगली पीढ़ी के लिए पानी बचाएं, इन प्रयासों से बढ़ी उम्मीद

दीपांकर बसु। धरती पर जीवन के लिए सबसे महत्वपूर्ण तत्व जल है। हमारे शरीर का 70 फीसदी हिस्सा भी पानी। हमें ये भी नहीं भूलना चाहिए कि पृथ्वी पर मौजूद जल में से केवल 3% ही मीठा पानी है जो पीने लायक है। बाकी महासागरों का खारा पानी है। यही कारण है कि मानव जाति के […]