Latest News TOP STORIES प्रदेश राष्ट्रीय

गलन भरी सर्दीके बीच कोहरेकी चादरमें लिपटा यूपी

लखनऊ(हि.स.)। पिछले सप्ताह चटख धूप खिलने से खुशनुमा मौसम का लुफ्त उठा रहे उत्तर प्रदेश के बाशिंदे ठंड के यू टर्न से खासे हैरान हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान गलन और सर्द हवाओं से राज्य के अधिसंख्य जिलों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में उल्लेखनीय गिरावट दर्ज की गयी है वहीं घने कोहरे ने आम जनजीवन पर खासा प्रभाव डाला है। मौसम विभाग के अनुसार सर्दी के तल्ख तेवर कम से कम अगले 24 घंटो तक बरकरार रहने का अनुमान है। इस दौरान कुछ स्थानो पर कोहरे की पर्त मोटी होने से द्दश्यता के स्तर में गिरावट के आसार है। इस अवधि में मौसम आमतौर पर शुष्क रहने की संभावना है। इस दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ एक स्थानो पर कोल्ड डे के हालात बन सकते हैं। कानपुर और लखनऊ में मंगलवार की सुबह घना कोहरा छाया रहा जिसके चलते सड़कों पर आमतौर पर सन्नाटा पसरा रहा। दोपहर 12 बजे के करीब कुछ एक स्थानो पर धूप के दर्शन हुये हालांकि सर्द हवाओं के चलते सूरज की तपिश नाकाफी लगी। गलन और शीतलहर से पशु पक्षी भी बेहाल दिखायी पड़े। कोहरे और बर्फीली हवाओं के चलते सुबह की सैर करने वालों की संख्या में खासी गिरावट दर्ज की गयी,नतीजन पाकर में आमतौर पर सन्नाटा पसरा रहा। ठंड से निपटने के लिये जिला प्रशासन की तरफ से अलाव के इंतजाम किये गये हैं हालांकि फुटपाथ पर गुजर बसर करने वाले कुछ रिक्शा चालकों और दिहाड़ी मजदूरों की शिकायत थी कि ठंड की शुरूआत में अलाव जलाये गये थे मगर अब खुद ही लकड़यिों और ज्वलनशील पदार्थों का प्रबंध करना पड़ रहा है। नगर निगम के आश्रय स्थलों पर भी इंतजामो को लेकर असंतुष्टि जाहिर की गयी। कोहरा और ठंड के बीच हालांकि कई स्वयंसेवी संगठन और निजी तौर पर भी लोगबाग बेसहारा और गरीबों की मदद के लिये आगे आये हैं। कानपुर में मंगलवार सुबह कई जगह चाय का वितरण देखा गया वहीं अलाव की व्यवस्था भी निजी संगठनों ने की। इस दौरान कुछ स्थानों पर भोजन का वितरण भी किया गया।